इनके हुनर ने लोगों को दिए ऐसे उपहार, देश क्या विदेश तक फैला कारोबार, जानिए इनकी काबिलियत

इस स्टार्टअप में यदि सरकार का सहयोग मिलेगा तो अन्य लोगों को रोजगार के साथ बड़ा मुनाफा मिलेगा।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 17 Sep 2020, 02:01 PM IST

कानपुर-पढ़ाई के साथ कुछ करने का जज्बा अगर जेहन में हो तो कुछ असंभव नहीं होता है। ऐसा ही कर दिखाया है कानपुर के आईआईटी व हरबर्ट बटलर तकनीकी संस्थान व सीएसजेएम सहित बीटेक व एमटेक के छात्रों ने, जो आज देश ही नहीं बल्कि अन्य देश के लिए भी लाभप्रद साबित हो रहा है। स्टार्टअप से इन छात्रों ने आम इंसान की सोच से ऊपर उठकर सस्ते उत्पादों का उपहार दिया है, जिससे अच्छी खासी कमाई भी हो रही है। इसी तरह सस्ते वेंटिलेटर, कार्बन मास्क समेत कई उत्पाद लोगों के लिए वरदान साबित होंगे। इससे उद्योग में भी उफान आया है साथ है लोगों को बड़ा फायदा हो रहा है।

सा पहले भी देखा जा चुका है कि कूड़े कचरे से ईंट बनाने जैसे कई शोध आज लोगों को अच्छा खासा फायदा पहुंचा रहे हैं और सरकार के अभियान में भी चार चांद लग रहे हैं। इस स्टार्टअप में यदि सरकार का सहयोग मिलेगा तो अन्य लोगों को रोजगार के साथ बड़ा मुनाफा मिलेगा। आईआईटी के बायोमेट्रिक स्टार्टअप ने फूलों से कार्बन रहित अगरबत्ती बनाने के लिए उद्योग लगाया है। इस तरह प्रदूषण से निदान मिलने का अच्छा आइडिया बन सकता है, जिसके लिए इंडियन एंजल नेटवर्क ने 10.5 करोड़ का अनुदान दिया है। इसके लिए इस बायोमेट्रिक स्टार्टअप के संस्थापक कानपुर के स्टार्टअप अंकित अग्रवाल व प्रतीक कुमार को प्रदेश में सबसे बड़ा अनुदान मिला है।

आईआईटी के पूर्व पीएचडी छात्र एवं ई-स्पिन नैनो टेक्नोलॉजी के संस्थापक डॉ. संदीप पाटिल ने कोरोना महामारी में कार्बन व नैनो फिल्टर मास्क बनाया, जो वाइरस से बचाव करता है। साथ ही उसे मार देता है। यह मास्क भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका एवं यूरोप तक पहुंचा। वहीं एचबीटीयू के सिविल इंजीनियरिंग के पूर्व छात्र शिवशंकर उपाध्याय व मैनेजमेंट के पूर्व छात्र शुभांकर बंका ने एक वेंटीलेटर बनाया। जिससे किसी भी कमरे को आइसीयू बनाया जा सकता है। महज 80 हजार के वेंटीलेटर से एक साथ 10 मरीजों को लाइफ सपोर्ट दिया जा सकता है। इसमें दूसरा मरीज आने पर यह पूरा चैनल बदला जा सकता है, जिससे संक्रमण का भय नहीं रहता।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned