इस तरह होमगार्ड बना दरोगा, सोशल मीडिया पर लिखा कुछ ऐसा, आखिर क्या है मकसद, जानिए

Arvind Kumar Verma

Updated: 28 Sep 2019, 10:48:55 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-जनपद में ऐसा नजारा देखने को मिला, जिसे देखकर आप हैरान हो जाएंगे। दरअसल रनियां चौकी में तैनात एक दबंग होमगार्ड चौकी इंचार्ज बन लोगों से रौंब गांठकर फर्जी मुकदमे में फंसाकर जमकर वसूली कर रहा था। इसका खुलासा तो तब हुआ जब एक पीड़ित व्यक्ति न्याय की गुहार लगाते हुए पुलिस आलाधिकारियों के दर पर पंहुचा। साथ ही जिले के पुलिस अधिकारियों से होमगार्ड के आतंक से निजात दिलाने की मांग की। मामला संज्ञान में आते ही आला अधिकारियों ने मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने के निर्देश जारी करते हुए कार्यवाही का आश्वासन पीड़ित को दिया है। दबंग होमगार्ड इतना शातिर है कि वह अपने फेसबुक प्रोफाइल में यूपी पुलिस लिखकर लोगो को धड़ल्ले से भ्रमित कर दहशत पैदा किये है।

इस तरह होमगार्ड ने बनाई योजना

मामला है कानपुर देहात के अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र की रनियां चौकी का है, आरोप है यहां देवेंद्र दुबे नाम का एक दबंग होमगार्ड अपने आपको चौकी प्रभारी रनियां बताकर लोगों को झूठे मुकदमे में फंसाने और उनसे वसूली करने का काम जोरों पर कर रहा है। इसका खुलासा तब हुआ, जब एक सड़क हादसे के मामले में दबंग होमगार्ड देवेन्द्र दुबे ने एक व्यक्ति के वाहन को फर्जी तरीके से दिखाकर मुकदमा लिखाया। फिर उस पर समझौते का दबाव बनाने के बाद पैसे की मांग कर रहा है। यही नहीं होमगार्ड देवेन्द्र दुबे अपने आपको रनिया चौकी इंचार्ज बताते हुए पीड़ित व्यक्ति को कई बार फोन पर व घर जाकर धमकाते हुए पैसे की मांग कर रहा हैं।

ऐसे हुआ होमगार्ड का खुलासा

दरअसल 23 फरवरी को रनियां चौकी क्षेत्र के रायपुर चौराहे के पास एक युवक की सड़क हादसे में मौत हो गयी थी और चालक गाड़ी को लेकर मौके से फरार हो गया था। जिसके बाद शातिर होमगार्ड देवेंद्र दुबे ने तानाबाना बुना और 1 अप्रैल को पीड़ित के खिलाफ एक्सीडेंट का झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया। पीड़ित को तब पता चला जब देवेंद्र दुबे नाम का होमगार्ड घर आया और अपने आपको चौकी इंचार्ज रनियां बताकर कहा कि आपकी गाड़ी से एक्सीडेंट हुआ है, आपके खिलाफ मुकदमा दर्ज है। जबकि मेरी गाड़ी से कोई एक्सीडेंट नही हुआ था। इसके बाद देवेंद्र दुबे हमसे पैसे की डिमांड करने लगा था। इसके बाद जब पीड़ित ने रनियां चौकी जाकर पता किया तो पता चला कि देवेंद्र दुबे चौकी इंचार्ज नही बल्कि एक होमगार्ड है, जो लगभग 15 सालो से चौकी रनियां में ड्यूटी कर रहा है।

पीड़ित ने लगाई अफसरों से गुहार

बताया गया कि ड्यूटी न होने के बाद भी क्षेत्र में रहकर दलाली काम करता है। क्षेत्र में कोई घटना हो या दुर्घटना हर मामलो में उसका हस्तक्षेप रहता है। साथ ही फर्जी मुकदमा दर्ज कराकर लोगो का उत्पीड़न करता है और लोगो से मोटी रकम वसूलता है। बहुत से भोले भाले लोग इसका शिकार हो चुके हैं। कई बार इसकी शिकायत हुई लेकिन कोई कार्यवाही न होने से उसके हौसले बुलंद हैै। उसके इस खेल में रनियां चौकी पुलिस की भूमिका भी संदिग्ध है। पीड़ित ने एसपी ऑफिस पहुँच जनपद के एसपी को अपने साथ हुई घटना के बारे में आपबीती सुनाई और दबंग होमगार्ड के प्रकोप से बचाने को न्याय की गुहार लगाई है। वहीं पुलिस के आलाधिकारी की माने तो पीड़ित की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए उच्चस्तरीय जांच कराई जा रही है। जाँच के बाद दबंग होमगार्ड के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned