Triple Divorce: मोटा होने के चलते शौहर ने पत्नी को दिया त्रिपल तलाक

Vinod Nigam

Updated: 14 Aug 2019, 02:49:43 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। संसद की पटल से त्रिपल तलाक का नया कानून बनने के बाद कानपुर में महज दस दिन के पांच पतियों ने पत्नियों को तलाक-तलाक-तलाक कहकर रिश्ता तोड़ लिया। ऐसा ही एक मामला बांसमण्डी निवासी अंजुम नैयर की बेटी बेटी फरिया के साथ हुआ। शौहर साजिद नाफिश नजीर ने शादी के पत्नी पत्नी के मोटा हो जाने से त्रिपल तलाक देकर उसे घर से बेदख कर दूसरी शादी कर ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

कर ली दूसरी शादी
बाँसमण्डी अंजुम नैयर की बेटी फरिया का विवाह 20 अक्टूबर 2007 को बड़े ही धूमधाम से दावतनामें के साथ फ्लैट नम्बर 210 ओरियंटल कंपाउंड सी ब्लॉक जाजमऊ के निवासी साजिद नाफिश से हुआ था। शादी के 12 साल के बाद फारिमा को उसके शौहर ने त्रिपल तलाक दे दिया। पीड़िता ने बताया कि शादी के बाद कुछ वर्षो तक पति उसे अच्छी तरह से रखा, लेकिन पिछले एक साल से उसके बर्ताव में परिवर्तन आ गया और वह अक्सर मुझे पीटता और तलाक की धमकी देता। पीड़िता का आरोप है कि पति 6 अगस्त को दूसरी शादी कर ली और तलाक देकर मुझे घर से निकाल दिया।

फिर भी दिया तलाक
फरिया के पिता ने बताया कि शादी के वख्त जरूरत के सारे साजो सामान के साथ धूमधाम से लाडली बेटी का विवाह कर दिया था। लेकिन बेटी के शौहर ने उसके मोटा होने की वजह से अगल होने का मन बना लिया और तलाक दे दिया। पीड़िता ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि त्रिपल तलाक का कानून और कड़ा बनाएं, जिससे की पतियों को सख्त से सख्त सजा मिले। नए कानून के बारे में पुलिस भी समय से कार्रवाई नहीं करती।

कानपुर में मामले बढ़े
अगस्त माह के दौरान कानपुर नगर में अकेले पांच त्रिपल तलाक के मामले सामनें आए हैं। पुलिस ने एक पर कार्रवाई करते हुए जेल भेजा, जबकि चार पर जांच कर रही है। पीड़िता के पिता ने बताया कि हम मुकदमा लिखवाने के लिए चकेरी थाने गए। पुलिस ने तहरीर लेकर टरका दिया। जब दूसरे दिन दबाव बना तो थानेदार ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया, लेकिन आरोपी पति को गिरफ्तार नहीं किया। थानेदार ने कानून की पेचदगी बता तीन दिन हमें थाने के चक्कर लगवाता रहा। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के साथ आने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned