अगर आप आईआईटी में प्रवेश लेना चाहते है तो 12वीं में जरूरी हैं इतने प्रतिशत अंक

अगर आप आईआईटी में प्रवेश लेना चाहते है तो 12वीं में जरूरी हैं इतने प्रतिशत अंक

Neeraj Patel | Publish: May, 13 2019 02:43:07 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

एससी, एसटी व पीडब्ल्यूडी (दिव्यांग) वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 65 प्रतिशत न्यूनतम अंक होना अनिवार्य है।

 

कानपुर. अगर आप आईआईटी में प्रवेश लेना चाहते है तो 12वीं के सामान्य छात्रों के लिए न्यूनतम 75 फीसद अंक होने बहुत जरूरी है। वहीं एससी, एसटी व पीडब्ल्यूडी (दिव्यांग) वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 65 प्रतिशत न्यूनतम अंक होना अनिवार्य है। जेईई एडवांस परीक्षा में पास होने वाले छात्रों के लिए यह नियम लागू कर दिया गया है।

अंकों की योग्यता सभी के लिए एक समान होगी चाहे वह किसी भी बोर्ड का अभ्यर्थी क्यों न हो। बता दें कि जेईई एडंवास के आयोजक संस्थान आईआईटी रुड़की ने प्रवेश परीक्षा में पास होने के लिए भी कटऑफ जारी कर दिया है। इससे अधिक जानकारी के लिए आप आईआईटी रुड़की की अधिकारिक वेबसाइट jeeadv.ac.in पर जाकर देखा जा सकता है। इसमें केवल उन्हीं छात्रों को मौका दिया जाएगा। जिन अभ्यर्थियों ने 2018 और 2019 में 12वीं की बोर्ड परीक्षा पास की है।

ये रही पूरी कटऑफ सूची

- जेईई एडवांस की परीक्षा में सामान्य श्रेणी की कट ऑफ : 35 प्रतिशत निर्धारित की गई है।
- आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के छात्रों की कट ऑफ 31.5 प्रतिस तय की गई है।
- एससी-एसटी के लिए कट ऑफ 17.5 फीसद रखी गई है।
- सामान्य वर्ग के छात्रों के विषयवार अंक अनिवार्य : 10 फीसद निर्धारित किया गया।
- ईडब्ल्यूएस व ओबीसी : 9 फीसद अंक
- एससी-एसटी लिए : 5 फीसद अंक तय

ये है प्रमुख तारीखें

- जेईई एडवांस परीक्षा 27 मई को आयोजित कराई जाएगी
- छात्र 20 मई से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।
- 4 जून को आंसर सीट जारी कर दी जाएगी।
- 5 जून से छात्र अपनी आपत्तियां दर्ज करा सकेंगे।
- जेईई एडवांस का परिणाम 14 जून को घोषित किया जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned