IIT KANPUR के छात्र ने मेयर का जीता दिल, लंदन में कंपनी शुरू करने का दिया ऑफर

IIT KANPUR के छात्र ने मेयर का जीता दिल, लंदन में कंपनी शुरू करने का दिया ऑफर

Vinod Nigam | Publish: May, 29 2018 02:09:38 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

आईआईटी के छात्र सचित कुमार ने शुरू की आईटी की कंपनी, जो टेलीकॉम, टेक्नोलॉजी, आईटी क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रही है

कानपुर। देश के जाना माना शिक्षण संस्थान आएदिन अपनी इतिहास की किताब में नए-नए आयाम दर्ज करवाता रहता है। जॉब से लेकर डिफेंस, स्वास्थ्य, सड़क, शिक्षा, पर्यावरण सहित अनेक जनहितकारी योजनाओं को संचालित करने के लिए अविष्कार करता रहता है। अब संस्थान के नाम एक और कीर्तिमान जुड़ने जा रहा है। यहां के पढ़े छात्र सुमित चौधरी को लंदन के मेयर सादिक खान ने उन्हें कंपनी खोलने का ऑफर दिया है। जिस पर उन्होंने मेयर से कुछ समय मांगा है। आईआईटी के पूर्व निदेशक मणींद्र अग्रवाल कहते हैं कि यह बहुत खुशी की बात है। संस्थान से पढ़ लिखकर स्टूडेंट्स अब विदेशों के बजाए अपने देश में खुद कंपनियां खोल रहे हैं और सैकड़ों बेरोजगारों को रोजगार मुहैया करा रहे हैं। युवाओं की सोच काबिले-तारीफ है।
कौन है सुचित चौधरी
सुचित चौधरी ने आईआईटी कानपुर से 1992 में इलेक्ट्रॉनिक्स इलेक्ट्रिकल से बीटेक की परीक्षा उत्तीर्ण की थी। सचित ने सबसे पहले एक साल तक फिलिप्स कंपनी में नौकरी की। 1993 में आगे की पढ़ाई के लिए अमेरिका चले गए। यहां से उन्होंने मास्टर और पीएचडी की पढ़ाई करने के बाद यूएस की टेलीकॉम कंपनी केपीएमजी में नौकरी करने लगे। कुछ साल बाद इस कंपनी के पार्टनर भी बन गए और फिर सीईओ बन गए। लेकिन एक दिन उनके पिता ने फोन कर भारत के बेरोजगार योवाओं को रोजगार देने की बात कही। पिता की बात आईआईटीएन के दिल को चुभ गई और वह 2006 में सब कुछ छोड़कर सुमित भारत आ गए। यहां आने के बाद उन्होंने कंपनियां चालू करने के लिए पैसे की जरूरत पड़ी तो सुचित बैंक से कर्जा लेने के बजाए मुम्बई में रिलायंस कम्यूनिकेशन के चीफ इंफॉरमेशन ऑफिसर (सीआईओ) पद पर नौकरी की। रिलायंस जियो के सीआईओ और रिलायंस इंटरप्राइजेज बिजनेस के प्रेसिडेंट पद पर भी काम किया।
नौकरी छोड़ खुद की कंपनी खोली
सुचित चौधरी ने बताया कि रिलयंस में जॉब के दौरान पैसा कमाने के साथ अनुभव भी मिला। 9 साल तक रिलायंस से जेड़े रहने के बाद 2015 में रिलायंस कंपनी से इस्तीफा देकर खुद की कंपनी खड़ी करने के लिए घर से निकल पड़े। जमीन खरीदकर गाया स्मार्ट सिटी नामक कंपनी की शुरुआत की। सुचित बताते हैं कि भारत के युवाओं में बहुत जज्बा और काबलियत है। बस उन्हें तरासने की जरूरत है। हमने अपनी कंपनी ने आईआईटी, सहित अन्य सस्थनों से पढ़े युवाओं को जॉब दिया। उन्हें वेतन के साथ काम भी सिखाया। इस वक्त कानपुर के अलावा वाराणसी, आगरा , लखनऊ सहित देश के सौ शहरों में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार के साथ उनकी कंपनी काम कर रही है। आने वाले दिनों में दो शहरों में कंपनी खोलने का लक्ष्य लेकर सुचित चल रहे हैं।
महापौर ने दिया ऑफर
लंदन मेयर्स इंडिया इमर्जिंग (आईई)-20 बिजनेस प्रोग्राम के तहत देश के टॉप-20 स्टार्टअप में सुमित की भी कंपनी शामिल की गई है। इसके चलते लंदन के महापौर सादिक खान ने उन्हें ये ऑफर दिया है। सोमवार को जारी की गई सूची में देश में काम करने वाली अलग-अलग क्षेत्रों की 20 कंपनियां हैं। इसमें सुमित चौधरी की कंपनी गाया स्मार्ट सिटी का भी नाम शामिल है। सुचित की कंपनी टेलीकॉम, टेक्नोलॉजी, आईटी क्षेत्र में अपनी सेवाएं देती है। सुचित ने बताया कि लंदन के महापौर ने कंपनी शुरू करने के लिए कार्यालय देंगे। सभी सरकारी विभागों से अनापत्ति पत्र दिलवाएंगे। शहर में सेवाएं प्रदान करने का मौका देंगे। सरकारी विभागों के प्रोजेक्ट दिलवाएंगे। सुचित ने बताया कि महापौर के ऑफर पर हम विचार कर रहे हैं। साथ ही कंपनी मेक-इन-इंडिया के तहत लंदन में कंपनी खोलेगी। अगर इस पर सहमति बनती है तो कानपुर की छोटी सी दुकान अंग्रेजों को हमने हुनर का लोहा बनवाएगी।

Ad Block is Banned