ऐसा हृदय विदारक हादसा कि घर में मच गया कोहराम, पिता के सामने था दोनों की विदाई का मंजर, जानकर आंखे छलक उठेंगी

मंडप में बैठी बहन के कानों में जैसे ही भनक लगी तो उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई और वह फूट फूटकर रो पड़ी।

कानपुर देहात-दुल्हन के जोड़े में सजी बैठी थी बहन और भाई शादी की तैयारी में लगा हुआ था। गेस्ट हाउस जाते समय अचानक सड़क दुर्घटना में भाई की मौत हो गई। बारात दरवाजे पर आने को थी और पिता बेटे के शव के समीप दहाड़ मारकर रो रहे थे। घटना कानपुर देहात के किशौरा गांव के समीप की है, जब दत्तपुर निवासी 30 वर्षीय युवक की पिकप की टक्कर से मौत हो गई। इस हृदय विदारक घटना को हृदय में दबाकर पिता ने द्वार चार कराया लेकिन हाथों में मेहंदी के साथ कई सपने सजाए बेटी को भनक नहीं लगने दी। आंखो से बह रहे आंसुओ को कोई नहीं पहचान सका कि ये बेटे की मौत का सैलाब है या बेटी की विदाई का दुख।

अजीब हालात थे एक पिता के सामने। बेटे और बेटी दोनों की विदाई थी लेकिन बेटी की घर से और बेटे की दुनिया से विदाई का दुखड़ा वह किसी से बयां भी नहीं कर सकता था। बस बेबस पिता ईश्वर को दुहाई देकर सीने में दर्द छुपाए रहा। बारात चढ़ गई। सुबह भांवर पड़ने के बाद पिता खुद को नहीं संभाल सका और उसने पत्नी से घटना बयां की तो मानो तूफ़ान आ गया। बेटे की मौत की बात सुनते ही वह विलाप करने लगी। मानो खुशी के इस मंजर में सुनामी आ गई। चारो तरफ सन्नाटा पसर गया। मंडप में बैठी बहन के कानों में जैसे ही भनक लगी तो उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई और वह फूट फूटकर रो पड़ी।

दरअसल थाना मंगलपुर क्षेत्र के दत्तपुर गांव हालपता करियाझाला मोड़ निवासी रामनरेश यादव की पुत्री अंजू की शादी बुधवार को किशौरा गांव स्थित मुरारी गेस्ट हाउस में की जा रही थी। रामनरेश फौजी का पुत्र हिमांशु यादव 30 वर्ष बाइक पर बहन की शादी का सामान गेस्ट हाउस ले जा रहा था। तभी किशौरा गांव के पास पीछे से आ रही तेज रफ्तार अमूल दूध डेरी की पिकअप ने जोरदार टक्कर मार दी, जिससे बाइक सवार गम्भीर रूप से घायल हो गया। परिजनों ने घायल को आनन फानन में लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र झींझक पहुंचे, जंहा डयूटी पर मौजूद चिकित्सक डॉ प्रतीक पांडेय ने हिमांशु को मृत घोषित कर दिया।एक पल में शादी की खुशियां मातम में तब्दील हो गयी। सूचना पर घटना स्थल पर पहुंची थाना पुलिस जांच में जुट गई। भोर पहर मौत की खबर मिलते ही शादी समारोह मातम में बदल गया। मृतक की माँ किरण देवी बेटे की मौत की खबर मिलते ही बेहाल हो गयी।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned