चल रहा था गठबंधन कार्यकर्ता सम्मेलन, अचानक भड़के एक कार्यकर्ता ने मोदी का नाम लेकर क्या कह डाला

Arvind Kumar Verma

Publish: Mar, 13 2019 07:51:40 PM (IST) | Updated: Mar, 13 2019 07:51:41 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-चुनावी शंखनाद होने के बाद सपा बसपा गठबंधन ने कानपुर देहात के अकबरपुर नगर पंचायत ग्राउंड से बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन के जरिये चुनाव का आगाज शुरू किया है। देखा जाए तो जिला प्रशासन के सख्त हिदायत के बावजूद कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान आये लोगों को प्रचार सामग्री बांटकर आचार सहिंता की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। यहां असलहों का खुलेआम प्रदर्शन भी किया गया। साथ ही सपा बसपा गठबन्धन कार्यकर्ताओं ने सपा बसपा की पट्टियों को जमीन में डालकर रौंदते नजर आये। वही कार्यकर्ता सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में आये बुन्देलखण्ड/पूर्वी यूपी प्रभारी शमसुद्दीन राईन ने गठबंधन की अकबरपुर लोकसभा प्रभारी निशा सचान को जिताने की लोगों से अपील की। इस बीच एक नाराज कार्यकर्ता ने जमकर भडास निकाली और कहा कि गठबंधन डरा हुआ है, तभी बार बार मंच से मोदी का नाम ले रहे हैं।

 

दोनों पार्टी कार्यकर्ता एक साथ मंच पर दिखे

अकबरपुर में हुए गठबंधन बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान मोदी को हराने के लिये सपा बसपा के नेता एक साथ मंच पर नजर आये और सभी ने एक सुर में गठबंधन की प्रत्याशी को जिताने की अपील की। हालांकि इस दौरान बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन की आड़ में जमकर प्रचार सामग्री बांटकर आचार सहिंता का खुलेआम उल्लंघन होता रहा। गठबंधन कार्यकर्ता असलहों का खुलेआम प्रदर्शन करते रहे, बावजूद इसके जिला प्रशासन ने इसकी कोई सुध नही ली।

 

बसपा के नेता बोले मायावती बनेगी पीएम

वही चुनावी मुद्दो के सवाल पर अकबरपुर लोक सभा की प्रभारी निशा सचान ने बताया कि उनका कोई मुद्दा नही है, जनता के मुद्दे पर चुनाव लड़ेंगे। वहीं गठबंधन बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में बतौर मुख्य अथिति के रूप में आये बुन्देलखण्ड/पूर्वी यूपी प्रभारी समशुद्दीन राइन ने गठबंधन की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि गठबंधन से हम मजबूत हुए हैं। इस बीच उन्होंने मायावती को देश का अगला प्रधानमंत्री बनने की बात कही।

 

भड़कते हुए कार्यकर्ता ने ऐसे निकाली भड़ास

वहीं मीडिया द्वारा सपा सरकार में बसपा कार्यकर्ताओ के ऊपर दर्ज कराये गये मुकदमे पर पूछे गए सवालों से सभी बचते नजर आये। बूथ सम्मेलन में उस समय सभी की नजर घूम गयी, जब कलेंडर न मिलने से नाराज होकर एक कार्यकर्ता ने अपनी भड़ास जमकर निकाली और गठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी नाम से गठबंधन भी इस कदर डरा हुआ है कि मंच से भी मोदी मोदी नाम ले रहे हैं और वोटरों को लुभाने के लिये प्रचार सामग्री बांटकर आचार संहिता की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

 

वही गठबंधन बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रचार सामग्री बाँटने और असलहों के प्रदर्शन पर तहसीलदार अकबरपुर ऋषिकान्त राजवंशी ने बताया कि मुझे इस प्रकार की जानकारी नही है। अगर इस प्रकार चुनाव सामग्री बांटकर आचार सहिंता का उल्लंघन किया गया है तो इसकी जांच कराकर कार्रवाई करायी जायेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned