होने वाली कुल मौतों में एक चौथाई होते हृदयरोगी

होने वाली कुल मौतों में एक चौथाई होते हृदयरोगी

Alok Pandey | Publish: Apr, 29 2019 04:13:27 PM (IST) | Updated: Apr, 29 2019 04:13:29 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

युवाओं में तेजी से बढ़ रहा यह रोग,
जांच के अभाव में गंभीर होती बीमारी

कानपुर। हृदयरोगियों की संख्या में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है, खासतौर पर युवाओं की संख्या ज्यादा बढ़ रही है। अनियमित जीवनशैली और खराब खानपान से इसे बढ़ावा मिल रहा है। युवाओं में बढ़ता तनाव भी इसकी अहम वजह है। सही समय पर जांच न हो पाने से स्थिति धीरे-धीरे काबू से बाहर होती जाती है।

तनाव से दूर रहे युवा
डॉक्टर्स एसोसिएशन के बैनर तले आयोजित एक कार्यशाला में डॉ. अभिनीत गुप्ता ने बताया कि युवाओं को तनाव से दूर रहना चाहिए। मौजूदा खानपान सुधारना तो कठिन है, लेकिन मानसिक स्थिति को युवा नियंत्रित रखें। पढ़ाई और नौकरी को लेकर युवावर्ग ज्यादा तनाव में जीता है, जो धीरे-धीरे हृदय को कमजोर कर देता है। ऐसे में कभी-कभी भी वे हार्टअटैक के शिकार हो सकते हैं।

तुरंत इलाज से बच सकती जान
डॉ. अभिनीत गुप्ता ने कहा कि समय से हार्टअटैक की पहचान हो जाए तो इंसान को बचाया जा सकता है। उन्होंने सलाह दी कि हार्टअटैक पर रोगी को जितनी जल्दी हो सके उस अस्पताल में ले जाएं जहां दिल का इलाज संभव है। अगर दिल की धमनियों में रुका खून 12 घंटे में प्राइमरी एंजियोप्लास्टी से हटा दिया जाए तो मरीज को राहत मिल सकती है।

बीपी की कराते रहें जांच
डॉ. बीएन आचार्य ने कहा कि युवाओं को नियमित ब्लड प्रेशर की जांच करानी चाहिए। इसके अलावा दिनचर्या को भी नियमित रखें। पूरी नींद लें और वह भी लगातार। सुबह जल्दी उठें और योग व व्यायाम अवश्य करें। धूम्रपान युवाओं में हार्ट की बीमारी की बड़ी वजह है। संचालन डॉ. जगदीश सिंह रावत ने किया। डॉ. प्रवीण कटियार,डॉ. वीएन त्रिपाठी,डॉ.सीमा द्विवेदी, डॉ. एसके निगम समेत बड़ी संख्या में डॉक्टर शामिल हुए। एसोसिएशन की पत्रिका डॉक्टर्स वायस का विमोचन भी किया गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned