गेटमैन की सक्रियता से टला बड़ा ट्रेन हादसा, कानपुर-लखनऊ रूट पर जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस दुर्घटना से बची

गेटमैन ने सतर्कता दिखा तत्काल स्टेशन पर जानकारी देकर आ रही जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस को पहले ही रुकवा दिया।

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 10 Mar 2021, 02:50 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. गेटमैन की सक्रियता के चलते एक बड़ा ट्रेन हादसा (Save Train Hadsa) होने से बच गया। दरअसल कानपुर-लखनऊ रेलमार्ग (Kanpur-Lucknow) पर स्थित मगरवारा (Magarwara Station) रेलवे स्टेशन के समीप की करोवन रेलवे क्रॉसिंग पर डंपर चालक पटरी के बीच में ही डंपर छोड़कर भाग गया। वहीं गेटमैन ने सतर्कता दिखा तत्काल स्टेशन पर जानकारी देकर आ रही जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस (Jaypur-Lucknow Express) को पहले ही रुकवा दिया और ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गई। इसके बाद आरपीएफ ने गेटमैन के बयान के आधार पर मुकदमा दर्ज करके डंपर को कब्जे में लिया है।

कानपुर-लखनऊ रेलमार्ग पर मगरवारा स्टेशन से 200 मीटर दूर करोवन रेलवे क्रॉसिंग पर गेटमैन जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस के आने का समय होने पर बूम फाटक बंद कर रहा था। उसी दौरान फाटक से जल्दी निकलने के चक्कर में तेज रफ्तार डंपर चालक ने बूम में टक्कर मार दी। बूम फाटक टूटने पर चालक पटरी के बीच डंपर छोड़कर भाग निकला। इस दौरान गेटमैन ने रेलवे स्टेशन में सूचना देकर ट्रेन को पहले ही रुकवा दिया। इसकी वजह से जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस क्रॉसिंग से पहले करीब 10 मिनट तक रुकी रही। बाद में गेट पर वैकल्पिक व्यवस्था अपनाते हुए ट्रेन को रवाना किया गया।

गेटमैन उकेंद्र कुमार से जानकारी के बाद आरपीएफ व मगरवारा चौकी से पुलिस पहुंच गई। इसके बाद नई दिल्ली-लखनऊ स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस, नीलांचल एक्सप्रेस के साथ अप व डाउन में कुछ और ट्रेनों को कॉशन देकर निकाला गया। वैकल्पिक व्यवस्था में स्लाइडिंग बूम की मदद से रेल यातायात बहाल किया गया। आरपीएफ ने डंपर कब्जे में लेकर रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया है और चालक की तलाश शुरू की है। बताया गया कि डंपर करोवन से उन्नाव की ओर आने की जानकारी मिली है।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned