चालक के इमरजेंसी ब्रेक लगाते ही चलती ट्रेन से यात्री कूदे

Vinod Nigam

Publish: Jun, 16 2019 11:58:33 AM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी और रेलमंत्री पियूष गोयल देश में बुलेट ट्रेन दौड़ाने की बात करते हैं, पर जमीन में आज भी रेलवे पुराने ढर्रे पर चल रहा है। ऐसा ही एक मामला कानपुर सेंट्रल में देखने को मिला। यहां दिल्ली से चलकर रांची जा रही झारखंड एक्पप्रेस के चालक ने अचानक इमरजेंसी ब्रेक लगा दी, जिससे यात्री डर गए और बोगियों से छलांग लगा दी। सूचना पर पहुंचे रेलवे के अधिकारियों ने जांच पड़ताल की। जिसमें इंजन में तननिकि खराबी आने की बात सामने आई। एक घंटे के बाद दूसरे इंजन के जरिए ट्रेन को रवाना किया गया।

लोको की खराबी से ट्रेन रूकी
झारखंड एक्सप्रेस शनिवार को दिल्ली से रांची जा रही थी। गाड़ी सेन्ट्रल स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर छह पर पहुंची। यहां पर निर्धारित समय ठहराव के बाद गाड़ी आगे के लिए रवाना हुई। जैसे ही गाड़ी आउटर तक पहुंची तभी इंजन में तकनीकी गड़बड़ी आने से लोको खराब हो गया। जिससे गाड़ी का मैन ब्रेक फेल हो गये। मामले का पता चलते ही चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाते हुए स्टेशन पर अधिकारियों व इंजीनियरिंग टीम को सूचना दी। जानकारी मिलते ही रेलवे के अफसर इंजीनियरों की टीम के साथ पहुंचे।

फिर लेकर आए सेंट्रेल स्टेशन
इंजीनियरों ने इंजन में आई खराबी को देखा और उसे दुरुस्त करने की कोशिश की। लेकिन सही न होने पर गाड़ी को दोबारा स्टेशन पर वापस लाया गया। जहां पर काफी प्रयासों के बाद इंजन में आई खराबी ठीक नहीं हो सकी। इस बीच यात्रियों को रेलवे के अवैध वेंडरों की दिन बहुर गए। जो पानी की बोतल बीस में मिलती थी उसे 40 में बेंचा तो प्रतिबंधित पॉलीथीन के पानी भरे पाउस पांच से लेकर दस रूपए में बिके।

बोगी के अंदर तपते रहे यात्री
भीषण गर्मी ने गाड़ी में सफर कर रहे यात्री तपते रहे। इसी दौरान कुछ यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया। टीटीई व रेलवे अधिकारियों से नोकझोक भी हुई। जिसके बाद दूसरा इंजन लगाया गया और गाड़ी को एक घंटा देर से आगे के लिए रवाना किया गया। महिला यात्री अंजली ने बताया कि पारा 45 के पार था। बोगी के अंदर हमलोग गर्मी से जूझ रहे थे। मेरी पांच साल की बच्ची बेहोश हो गई। हम रेलवे को पैसा देते हैं, पर बदले में हमें सुविधाएं नहीं मिलती।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned