scriptजम्मू कश्मीर में श्रद्धालुओं पर आतंकी हमला: घर वालों को नहीं मिल रही अपनों की खबर, सभी परेशान | J&K terrorist attack on pilgrims: Family members not getting any news | Patrika News
कानपुर

जम्मू कश्मीर में श्रद्धालुओं पर आतंकी हमला: घर वालों को नहीं मिल रही अपनों की खबर, सभी परेशान

जम्मू कश्मीर में श्रद्धालुओं से भरी बस में हुई आतंकी हमले में कानपुर का रहने वाला भी शामिल है। जिन्होंने गोंडा से जम्मू की लिए ट्रेन पकड़ी थी। उसके साथ बहन-बहनोई और उनके बच्चे आदि भी शामिल है।

कानपुरJun 12, 2024 / 06:54 pm

Narendra Awasthi

जम्मू कश्मीर के रियासी में हुए आतंकी हमले में 10 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि कई अन्य घायल हो गए। घायलों में कानपुर से गए भाई और बहन भी शामिल है। जिनके विषय में घर वालों को कोई जानकारी नहीं मिल रही है। भाई रमेश गुप्ता ने बताया कि एक दिन पहले शाम को बातचीत हुई थी। अब उनकी कोई जानकारी नहीं मिल रही है। सभी घायल है। उन्होंने जम्मू कश्मीर सरकार से भाई और अन्य की जल्द से जल्द वापसी की मांग की है।
यह भी पढ़ें

खुशखबरी: अन्य पिछड़ा वर्ग से शादी अनुदान के लिए मांगा गया आवेदन, अल्पसंख्यक पिछड़ा वर्ग को नहीं मिलेगा लाभ

कानपुर के सीसामऊ निवासी रमेश गुप्ता ने बताया कि उनका भाई 4 जून को वैष्णो देवी दर्शन करने के लिए लिया था। गोंडा से उन्होंने जम्मू के लिए ट्रेन पकड़ी थी। वैष्णो देवी मां के दर्शन करने के बाद सभी लोग शिवखोड़ी दर्शन करने के लिए गए थे। वहां से वापस कटरा आ रहे थे। रात में 9:45 पर ट्रेन थी।
अपनों को लेकर परिवार वाले चिंतित

रमेश गुप्ता ने बताया कि थोड़ी दूर चले थे कि बस में आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जिसमें उनका भाई, बहन, बहनोई, उनके बच्चे, नंद और नंदोई थे। घटना में सभी घायल हो गए। उन्हें घटना की जानकारी दूसरे दिन 11:30 बजे हुई। कल शाम को बातचीत हुई थी। लेकिन उसके बाद फिर कोई बातचीत नहीं हुई। उन्होंने गवर्नमेंट से मांग की कि उनके भाई और परिवार वालों को सही सलामत वापस भेज दें। घटना में दिनेश गुप्ता निवासी सीसामऊ कानपुर, चचेरी बहन नीलम, उनके पति देवी प्रसाद निवासी परशुरामपुर गोंडा आदि शामिल है। ‌

Hindi News/ Kanpur / जम्मू कश्मीर में श्रद्धालुओं पर आतंकी हमला: घर वालों को नहीं मिल रही अपनों की खबर, सभी परेशान

ट्रेंडिंग वीडियो