कानपुर में संक्रमण बढऩे पर पुलिस ने थोक बाजार कराई बंद

नयागंज और कलक्टरगंज में नहीं हो रहा था लॉकडाउन का पालन
व्यापारियों के विरोध करने पर पुलिस हुई सख्त, खदेड़ा गया

कानपुर। पूरे शहर में लॉकडाउन का आदेश होने के बावजूद नयागंज और कलक्टरगंज की थोक मार्केट में लगातार लॉकडाउन की अनदेखी हो रही थी। जिस कारण शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढऩे पर पुलिस को सख्त होना पड़ा। गुरुवार को पुलिस ने थोक बाजार में पहुंचकर दुकानें बंद करा दीं। हालांकि व्यापारियों के विरोध का भी पुलिस को सामना करना पड़ा, लेकिन पुलिस ने सख्ती दिखाकर व्यापारियों को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया।

रोजाना उमड़ रही थी भीड़
लॉकडाउन के चलते पूरे शहर में बाजार बंद होने के बावजूद नयागंज और कलक्टरगंज की थोक बाजार में कहीं पर भी लॉकडाउन नहीं दिख रहा था। किराने की फुटकर दुकानों तक पर्याप्त मात्रा में राशन पहुंच सके, इसलिए नयागंज और कलक्टरगंज की थोक मार्केट में शाम तक दुकानें खोलने की छूट दी गई थी, लेकिन शर्त थी कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना चाहिए। पर इस बात पर ध्यान नहीं दिया जा रहा था। कहीं पर भी कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं दिख रही थी। हर जगह भारी संख्या में भीड़ उमड़ रही थी।

तेजी से बढ़ी मरीजों की संख्या
पिछले एक हफ्ते में तेजी से शहर में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इसके पीछे लॉकडाउन की अनदेखी भी है। इसे देखते हुए पुलिस ने थोक बाजार को बंद करा दिया। गुरुवार सुबह 11:00 बजे ही नयागंज किराना बाजार और कलक्टरगंज गल्ला बाजार को बंद कराने पहुंची पुलिस को व्यापारियों के विरोध का सामना करना पड़ा। जिस पर पुलिस के लाठी पटककर उन्हें खदेड़ दिया।

व्यापारियों ने दी चेतावनी
नयागंज किराना बाजार में गुरुवार को 11:00 बजे से ही पुलिस की जीप से एनाउंस किया जाने लगा कि आप लोग दुकानें बंद कर दें। पुलिस ने कई दुकानदारों से सख्ती दिखाई तो व्यापारी विरोध में आ गए। व्यापारियों ने कहा कि प्रशासन के कहने से ही दुकानें खोली जा रही हैं। शाम तक खोलने का आदेश है। बेवजह चालान किया गया या व्यापारियों के साथ बदसलूकी हुई तो थोक व्यापारी काम बंद कर देंगे। दि किराना मर्चेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष अवधेश वाजपेई का कहना है कि व्यापारी वैसे भी दोपहर 12:00 बजे तक दुकानें बंद कर देते हैं। कई पुलिस वाले बेवजह व्यापारियों से बदसलूकी कर रहे हैं। ऐसा किया गया तो व्यापारी डिलीवरी चेन का काम नहीं कर सकेंगे।

आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned