गंगा किनारे अवैध प्लाटिंग के मुद्दे पर राज्यसभा में उठा सवाल, सपा के राज्यसभा सदस्य इस पर बोले कि.....

उन्होंने गंगा किनारे कटरी क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध प्लाटिंग होने की बात कही। गंगा एवं अन्य नदियों किनारे हुई प्लाटिंग के उदाहरण भी दिए।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 17 Mar 2021, 12:49 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. राज्यसभा (Rajyasabha) में कानपुर की गंगा नदी (Kanpur Ganga River) के डूब क्षेत्र में अवैध प्लाटिंग (Avaidh Plotting) का मुद्दा सपा के राज्यसभा सदस्य सुखराम सिंह यादव (Sapa Rajyasabha Sadasya) ने उठाया। उन्होंने गंगा किनारे कटरी क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध प्लाटिंग (Illegal Plotting) होने की बात कही। बोले इससे आने वाले समय में जल संरक्षण की गंभीर समस्या उत्पन्न होगी, जो लोगों के लिए बड़ा संकट लेकर आएगी। क्योंकि हवा तो प्रकृति से मिल रही है, लेकिन प्रकृति द्वारा बारिश के रूप में दिए जा रहे जल का संचय न होने एवं गंगा किनारे अवैध प्लाटिंग से जल संरक्षण की समस्या खड़ी होगी।

यह भी पढें: डिब्बे या पैकेट पर सरसों लिखकर नहीं बेच सकेंगे ब्लेंड ऑयल, भरना पड़ेगा बड़ा जुर्माना

सुखराम सिंह (Sapa Sukhram Singh Yadav) ने कहा कि सदन में रहीम दास के दोहे रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून....से शुरुवात करते हुए कहा कि अगर पानी चला गया तो समझो सबकुछ चला गया। कानपुर में गंगा एवं अन्य नदियों किनारे हुई प्लाटिंग के उदाहरण भी दिए। कहा कि गंगा बैराज पर कटरी शंकरपुर सराय, कटरी लोधवाखेड़ा, कटरी लक्ष्मीखेड़ा में बड़े पैमाने पर अवैध प्लाटिंग हुई थी। जब इसका विरोध किया गया तो इस प्लाटिंग को तोड़ा गया और कई लोगों पर कार्रवाई भी हुई थी।

उन्होंने कहा कि जिन गांवों की भूमि पर अवैध प्लाटिंग हुई थी वह सब गंगा के डूब क्षेत्र में आते हैं और बरसात में बाढ़ आने पर वहां गंगा का पानी भर जाता है। इससे लोगों को गर्मी में अब जल संकट का सामना करना पड़ेगा। बोले कि कानपुर में भी नदियों के आसपास बड़े पैमाने पर भूमाफिया (Bhumafiya) अवैध रूप से प्लाटिंग कर रहे हैं, जिन्हे रोकना आवश्यक है।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned