पुलिस ने इस बड़े अधिकारी ने किया निरीक्षण, क्षेत्राधिकारियों को दी चेतावनी

बोले लगातार खराब कार्य पाए जाने पर संबंधित क्षेत्राधिकारियों के विरुद्ध गैर जनपदीय शाखा में स्थानांतरण की कार्रवाई की जाएगी।

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 05 Sep 2019, 11:35 PM IST

कानपुर देहात-कानपुर रेंज के आईजी का कानपुर देहात में दौरा होने पर जिले की पुलिस में हड़कंप मचा रहा। वहीं उन्होंने बैठक करते हुए कहा कि जिन क्षेत्राधिकारियों के कार्यों का मूल्यांकन करने पर खराब या संतोषजनक श्रेणी पाई गई है। उन्हें सितंबर में उत्तम एवं अति उत्तम श्रेणी के कार्य करने के प्रति सचेत किया जाता है। लगातार खराब कार्य पाए जाने पर संबंधित क्षेत्राधिकारियों के विरुद्ध गैर जनपदीय शाखा में स्थानांतरण की कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस महानिरीक्षक कानपुर जोन मोहित अग्रवाल की अध्यक्षता में कानपुर देहात व औरैया के पुलिस अधिकारियों की बैठक हुई। उन्होंने दोनों जिलों के क्षेत्राधिकारियों व थानों में कार्रवाई के आधार पर कार्यों का मूल्यांकन किया, जिसमें अकबरपुर सर्किल के सीओ अर्पित कपूर का कार्य उत्कृष्ट तथा सीओ डेरापुर तेजबहादुर सिंह का कार्य अच्छी श्रेणी का पाया गया, जबकि भोगनीपुर सीओ संदीप सिंह का कार्य संतोषजनक था। वहीं सीओ सिकंदरा रामकृष्ण मिश्र व रसूलाबाद सीओ राजाराम चौधरी का कार्य खराब की श्रेणी में रहा। इसी तरह जिला औरैया के नगर सीओ श्यौंदान सिंह, बिधूना सीओ लालता प्रसाद व अजीतमल सीओ कमलेश नारायण का कार्य खराब श्रेणी का पाया गया।

आइजी ने निर्देशित किया कि क्षेत्राधिकारियों का मूल्यांकन निस्तारित विवेचनाएं, वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, आईजी आरएस, टॉप टेप आपराधियों के विरुद्ध आदि के जरिये किया गया है। दी गई श्रेणी ग्रेडिग व्यवस्था के तहत तय हुई। इसमें आइजीआरएस की शिकायतों का निस्तारण, रूटीन शिकायतों का निस्तारण, वांछित गिरफ्तारी, टॉप-10 अपराधियों पर कार्रवाई, निरोधात्मक कार्रवाई को आधार माना गया है। आगे भी यह व्यवस्था रहेगी। खराब प्रगति वाले सीओ इसमें सुधार लाएं, अन्यथा स्थानांतरण कार्रवाई के साथ ही उनके वार्षिक गोपनीय मंतव्य भी इसी आधार पर लिखे जाएंगे।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned