शहर में दहशत फैला गया हांगकांग पहुंचा कानपुर का कोरोना पॉजिटिव

बिरहाना रोड का है रहने वाला, ७ मार्च को आया था कानपुर
१५ मार्च को पहुंचा कानपुर, २६ को कोरोना पॉजिटिव निकला

कानपुर। शहर में इकलौता एनआरआई ही अभी तक कोरोना पॉजिटिव मिला था, जिसके बाद प्रशासन ने शहर में लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया था, लेकिन इसके बावजूद एक चूक हो गई। शहर का एक और युवक कोरोना पॉजिटिव निकला है, हालांकि इस समय वह हांगकांग में है, लेकिन एक हफ्ते तक वह कानपुर में रहा और उसके बाद जब हांगकांग में उसकी जांच की गई तो वह कोरोना से पीडि़त निकला। इसकी जानकारी के बाद शहर के स्वास्थ्य महकमे में हडक़ंप है। विभाग को आशंका है कि एक हफ्ते कानपुर में रहने के दौरान अगर वह कोरोना से पीडि़त था तो हो सकता है कि उसने शहर में और लोगों को भी संक्रमित किया होगा। इस आशंका के चलते उस युवक के परिवार को आईसोलेट कर दिया गया है।

पत्नी की डिलीवरी के लिए आया था कानपुर
शहर के बिरहाना रोड का रहने वाला यह युवक हांगकांग में नौकरी करता है। अपनी पत्नी की डिलीवरी के लिए 7 मार्च को कानपुर आया था। डिलीवरी के बाद 15 को वह हांगकांग लौट गया और वहां जाकर बीमार हो गया। जांच की गई तो 26 मार्च को रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। इसके बाद चीन की सरकार ने नई दिल्ली स्थित दूतावास के जरिए केंद्रीय हेल्थ कंट्रोल रूम को सूचना दी। शुक्रवार देर रात 1:20 बजे दिल्ली से उर्सला कंट्रोल रूम को सूचना दी गई। यह भी बताया गया कि युवक कोरोना पॉजिटिव है।

इन इलाकों में गया था
पता चला है कि वह युवक कानपुर में रुकने के दौरान बिरहाना रोड के अलावा लालबंगला, परदेवनपुरवा भी गया था। यह जानकारी मिलने के बाद देर रात को ही टीम सक्रिय हुई। युवक द्वारा दिया गया फोन नंबर नहीं मिला। सुबह टीम लालबंगला के पते पर पहुंची तो बताया गया कि युवक हांगकांग लौट गया है। विदेश में उसके भर्ती होने की सूचना पर परिवार के लोग भी दहशत में आ गए। टीम ने लाल बंगला में उसकी गर्भवती पत्नी और 12 दिन के बच्चे समेत आठ लोगों को घर में ही क्वारंटाइन कर दिया है। पड़ोसियों को एहियात के तौर पर घर से नहीं निकलने की सलाह दी गई है।

मिलने वालों को तलाशा जा रहा
युवक के संपर्क में आने वालों को क्वारंटाइन किया जा रहा है। लाल बंगला पूनम टॉकीज के पीछे खत्री धर्मशाला के पास स्थित आवास पर वह अधिक समय तक रहा है। बिरहाना रोड स्थित अपने मूल निवास पर भी गया था। संपर्क में आए लोगों की सूची बनाई जा रही है। घर वालों के जांच के सैंपल लिए गए हैं। परिजनों के नमूने की रिपोर्ट के आधार पर पड़ोसियों और अन्य संपर्क में आए लोगों की जांच की जाएगी।

100 से अधिक विदेशी लापता
विदेश से कानपुर लौटे 100 से अधिक लोग लापता बताए जा रहे हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग को जो सूची मिली थी उन्हें लगभग ट्रैक करने का दावा किया गया है। फिर भी हांगकांग से आए युवक के बारे में जानकारी नहीं होने से अधिकारी खासे परेशान हैं। उनका कहना है कि अभी न जाने किनते लोग ऐसे होंगे जिनकी सूचना नहीं मिली है। दरअसल स्वास्थ्य विभाग को उन्हीं लोगों की जानकारी है जिनकी सूचना केन्द्रीय संचारी रोग नियंत्रण विभाग से मिली है। बाकी बड़ी संख्या उन लोगों की भी है जो देश के किसी दूसरे एयरपोर्ट पर उतरे हैं और ट्रेन व दूसरे साधनों से कानपुर आए हैं।

Show More
आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned