राष्ट्रपति का पैतृक गांव अब बन रहा मॉडल गांव, परिवार में खुशी की लहर, नौ विभाग जुटे

Arvind Kumar Verma

Updated: 16 Nov 2018, 03:09:48 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-एक छोटा सा गांव परौंख, जो कभी पिछड़ेपन का शिकार था। आज उस गांव के लाल रामनाथ कोविंद देश के राष्ट्रपति की कुर्सी पर विराजमान हैं। बता दें कि उनके राष्ट्रपति बनने के बाद से गांव की सूरत दिन प्रतिदिन बदलती ही जा रही है। बिजली, पानी, शिक्षा के बाद अब ये गांव मॉडल बस्ती के रूप में विकसित होने जा रहा है, जिसकी जमीनी कवायद शुरू हो गयी है। मॉडल बस्ती के लिए हडको की तरफ से 70 लाख रुपये की धनराशि दे दी गयी है। इससे तीन दर्जन हैण्डपम्प लगाने का कार्य युद्ध स्तर पर शुरू कराया गया है। ये कार्य जिलाधिकारी की देखरेख में सम्पन्न होगा। डीएम ने जलनिगम एक्सईएन को हैण्डपम्प लगाए जाने के लिए स्थान देखकर रिपोर्ट देने को कहा है। बताया गया कि इसके बाद नाबार्ड से धनराशि लेकर उपलब्ध कराई जाएगी।

 

हडको ने दिए 70 लाख रुपये

कानपुर देहात का परौंख गांव पिछले एक वर्ष से क्षेत्रीय लोगों के लिए कौतूहल से कम नही है। आज इस गांव को 9 विभागों की योजनाओं को मिलाकर मॉडल बस्ती के रूप में विकसित किया जाना है। इसके लिए सभी विभागों ने अपनी कार्य योजना बनाकर शासन से स्वीकृत के लिए भेज दी है। इसके लिए हडको (हाउसिंग एंड अर्बन डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड) ने परौंख को मॉडल बस्ती बनाने के लिए 70 लाख रुपये प्रदान किये है, जिससे मॉडल बस्ती में बहुउद्देशीय हाल, मिलान घर व अन्य विकास कार्य के साथ ही 36 नए अन्य हैण्डपम्प लगाए जाने की कवायद शुरू हो चुकी है।

 

अब ग्रामीणों को हर समय मिलेगा शुद्ध पेयजल

अफसरों ने कार्यों में तेजी लाने की बात कही है, जिससे मॉडल बस्ती के लोगों को 24 घंटे शुद्ध पीने का पानी उपलब्ध कराया जा सके। बताया गया कि हैण्डपम्प लगवाने के लिए नाबार्ड की तरफ से धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी। वहीं हैण्डपम्प लगाने के लिए जल निगम को जगह का चिन्हांकन कर सूची उपलब्ध कराकर आगणन मांगा गया है। ताकि विकास कार्यों को गति दी जा सके। मॉडल बस्ती बनने की कवायद शुरू होते ही ग्रामीणों में खासी हलचल है। फिलहाल चहुमुंखी विकास कार्यों को देख ग्रामवासी फूले नही समा रहे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned