scriptMan Beaten in Police Station Died after Some Hours of Coming Home | पुलिस की पिटाई से युवक की मौत, परिजनों का आरोप जेल से छूटते ही खराब हुई थी तबीयत | Patrika News

पुलिस की पिटाई से युवक की मौत, परिजनों का आरोप जेल से छूटते ही खराब हुई थी तबीयत

Man Beaten in Police Station Died after Some Hours of Coming Home- उत्तर प्रदेश में पुलिस की पिटाई से मौत की खबरें थमने का नाम नहीं ले रहीं। कासगंज, गोरखपुर और आगरा के बाद अब कानपुर में पुलिस की पिटाई से युवक की मृत्यु की खबर सामने आई है।

कानपुर

Published: November 17, 2021 12:00:15 pm

कानपुर. Man Beaten in Police Station Died after Some Hours of Coming Home. उत्तर प्रदेश में पुलिस की पिटाई से मौत की खबरें थमने का नाम नहीं ले रहीं। कासगंज, गोरखपुर और आगरा के बाद अब कानपुर में पुलिस की पिटाई से युवक की मृत्यु की खबर सामने आई है। पीड़ित परिवार का आरोप है कि पुलिस ने उसकी हत्या की है। युवक की पीठ पर बहुत सारे पिटाई के निशान पाए गए हैं।
Man Beaten in Police Station Died after Some Hours of Coming Home
Man Beaten in Police Station Died after Some Hours of Coming Home
मामला कल्याणपुर का है। पुलिस ने दिवाली के अगले दिन हुई 12 लाख की चोरी के शक में एक युवक को गिरफ्तार किया था। कल्याणपुर पुलिस गुवा गार्डेन के रहने वाले युवक जितेंद्र श्रीवास्तव को रविवार को उठा ले गई थी। अगले दिन सोमवार सुबह उसे छोड़ दिया। जिस दिन पुलिस ने उसे छोड़ा उसी दिन रात में उसकी मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने युवक को बेरहमी से पीटा और पिटाई के बाद रविवार को देर शाम पुलिस ने युवक को छोड़ दिया। घर पहुंचने पर उसकी तबीयत खराब हो गई। घर वाले उसे अस्पताल लेकर गए, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही युवक की मौत हो गई।
कासगंज में थाने में युवक ने लगा ली थी फांसी

उत्तर प्रदेश के कासगंज के शांतापुरी अहरोली क्षेत्र में पुलिस ने युवती के अपहरण के आरोप में युवक अल्ताफ को हिरासत में लिया था। युवक ने पुलिस स्टेशन के वॉशरूम में अपनी जैकेट की डोरी से फंदा बनाकर पाइप के सहारे फांसी लगा ली थी।आनन-फानन में पुलिसकर्मी उसे लेकर अशोक नगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
गोरखपुर में प्रॉपर्टी डीलर की हुई थी पुलिस पिटाई से मौत

गोरखपुर के रामगढ़ताल इलाके में स्थित होटल में चेकिंग के दौरान तत्कालीन इंस्पेक्टर जेएन सिंह, दरोगा अक्षय मिश्रा और अन्य पुलिस वालों पर कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पिटाई का आरोप लगा था। मनीष गुप्ता अपने दोस्तों के साथ यहां ठहरे थे और दोस्तों का आरोप था कि पुलिस पिटाई से ही मनीष गुप्ता की मौत हुई है। इस मामले में मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी की तहरीर पर छह पुलिसवालों के खिलाफ हत्या की धारा में केस दर्ज किया गया था। मामले की जांच और विवेचना एसआईटी कानपुर को दी गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

गोवा में कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं, NCP शिवसेना के साथ मिलकर लड़ेगी चुनावAntrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़Delhi Riots: दिलबर नेगी हत्याकांड में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, 6 आरोपियों को दी जमानतDelhi: 26 जनवरी पर बड़े आतंकी हमले का खतरा, IB ने जारी किया अलर्टपंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशLeopard: आदमखोर हुआ तेंदुआ, दो बच्चों को बनाया निवाला, वन विभाग ने दी सतर्क रहने की सलाहइन सेक्टरों में निकलने वाली हैं सरकारी भर्तियां, हर महीने 1 लाख रोजगारमहज 72 घंटे में टैंकों के लिए बना दिया पुल, जिंदा बमों को नाकाम कर बचाई कई जान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.