गणतंत्र दिवस पर वंदेमातरम् की गूंज से सराबोर हुआ ग्रीनपार्क

संयोजक ने बताया कि वंदेमारत गीत जोड़ने का काम करता है। इसलिए हमें अपने देश में कौमी-एकता बनाए रखने के लिए यह आयोजन करना पड़ा।

By:

Published: 26 Jan 2018, 09:29 PM IST

कानपुर. गणतंत्र दिवस के अवसर पर भाजपा और संस्कार भारती ने ग्रीनपार्क स्टेडियम में वंदेमारम सामूहिक गीत गायन कार्यक्रम का आयोजन किया था। जिसमें सुबह से स्कूली बच्चे और हजारों लोग हाथ में तिरंगा लेकर स्टेडियम में पहुंच गए। करीब 50 हजार लोगों ने खड़े होकर एक साथ वंदेमातरम गीत गुनगुनाया, जिसके कारण पूरा इलाका सराबोर हो गया। संस्कार भारती के जिला संयोजक अवध बिहारी ने कहा कि संस्था का उदेश्य लोगों तक देशभक्ति के जज्बे को जगाना और क्रांतिकारियों के इतिहास के बारे में उन्हें जानकारी देना है।
50 हजार लोगों ने गाया वंदेमातरम
कानपुर का ग्रीनार्क स्टेडियम वैसे तो कई इंटरनेशल क्रिकेट मैचों का गवाह रहा, लेकिन Friday को यहां पर एक नया अध्याय जुड़ गए। संस्कार भारती और भारती जनता पार्टी के आवह्न पर स्टेडियम में पचास हजार से ज्यादा लोगों ने सामूहिक वंदेमातरम गीत गुनगुनाया। इस दौरान यहां पर आए लोगों को क्रांतिकारियों के बारे में जानकारी दी गई। सामूहिक वंदूमारतम गीत को जहां हिन्दुओं ने गाया तो मुस्लिम समाज के लोगों ने कार्यक्रम में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया और शान से राष्ट्रगीत गाया। संयोजक ने बताया कि वंदेमारत गीत जोड़ने का काम करता है। इसलिए हमें अपने देश में कौमी-एकता बनाए रखने के लिए यह आयोजन करना पड़ा।
ठठाठस भरा स्टेडियम
ठण्ड को धता बताकर हजारों लोग अपने-अपने घरों से निकलें और पैदल ही ग्रीनपार्क की तरह अपने कदम बढ़ा लिए। 11 बजते बजते पूरा स्टेडियम ठठाठस भर गया। यहां पहुॅचे स्कूली बच्चों का जोश तो देखते बनता था। वन्दे मातरम पर होने वाली राजनीति को नकारते हुए मुस्लिम समुदाय ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। अफसर खान ने इस मौके पर कहा कि कुछ लोग अपनी सियासत को चमकाने के लिए युवाओं को गलत जानकारी देकर भटका रहे हैं। वंदेमातरम गीत को हर हिन्दु-मुस्लिम, सिख और ईसाई को गर्व से गाना चाहिए।
भाजपा के सभी जनप्रतिनिधि मौजूद
समूहिक वंदेमातरन गायन के आयोजन में यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, सत्येदव पचौरी, मेयर सहित कानपुर-बुंदेलखंड के सभी भाजपा के विधायक व जनप्रतिनिध मौजूद थे। सुबह के वक्त पचार की भीड़ ने वंदेमारत गीत गाया तो पूरा इलाका सराबोर हो गया। मेयर प्रमिला पांडेय ने कहा कि वंदमारतम गीत पिहारने के काम करता है। अंग्रेजों के खिलाफ जंग-ए-आजादी के दौरान क्रांतिकारी वंदेमारतम गीत गाकर हंसते-हंसते अपने प्राण निछावर कर देते थे। संस्कार भारती ने एक अनोठी मिशाल पेश की है, जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई।
स्कूली बच्चों ने सबका मनमोह लिया
शहर के सभी सरकारी और प्राईवेट स्कूलों के बच्चों को वंदेमारम सामूहिक गीत कार्यक्रम में बुलाया गया था। संस्कार भारती, भाजपा और पुलिस-प्रशासन ने बच्चों को लाने के लिए बसों की व्यवस्था की थी। एक अनुमन के मुताबिक करीब तीस हजार स्कूली बच्चों ने कार्यक्रम में भाग लिया। वंदंमारतम गीत के बाद स्कूली बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर सबका मनमोह लिया। बच्चों ने भगत सिंह और पंडित चंद्रशेखर आजाद के चित्रण को प्रस्तुत कर वाहवाही लूटी। डीएम ने कार्यक्रम में आए सभी लोगों का अभार जताया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned