मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट, आने वाले सप्ताह में और बिगड़ सकता है मौसम

-मौसम विभाग में रेड, ऑरेंज, येलो, ग्रीन रंगों का विशेष महत्त्व है। इन्हीं रंगों से अलर्ट जारी करता है। मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। जिसमें कोहरे का कहर सितम ढा रहा है।

By: Narendra Awasthi

Published: 28 Jan 2021, 11:16 AM IST

कानपुर. मौसम विभाग द्वारा लगातार ऑरेंज अलर्ट जारी किया जा रहा है। जिसका मतलब यह है कि मौसम आने वाले दिनों में और भी खराब हो सकता है। विशेष सावधानी की आवश्यकता है। समझने वाली बात यह है कि आखिर ऑरेंज अलर्ट क्या होता है।

मौसम विभाग में कलर का विशेष महत्व

मौसम विभाग की डिक्शनरी में रंगों का विशेष महत्व है। जिसमें ग्रीन, येलो, ऑरेंज व रेड कलर का उपयोग किया जाता है। आइए आपको बताते हैं इन रंगों को मौसम विभाग ने किस प्रकार बांटा है।

रेड अलर्ट

मौसम विभाग में भी लाल रंग को खतरे के रूप में लिया जाता है। रेड अलर्ट जारी करने का मतलब है। मौसम खतरनाक स्थिति में है और प्राकृतिक आपदा से भारी नुकसान होने की संभावना है। मौसम विभाग कहता है सतर्क रहें सावधान है। इसके लिए मौसम विभाग रेड अलर्ट जारी करता है।

ऑरेंज अलर्ट

ऑरेंज अलर्ट खतरे से कम लेकिन आने वाले समय में मौसम और खराब होगा की जानकारी देता है। आवागमन में विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता पड़ती है। जैसा कि आजकल मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। जो यह बता रहा है कि आने वाले दिनों में कोहरे का कहर और भी सितम लायेगा। इसलिए सावधान रहें। घर पर रहे।

येलो अलर्ट -

येलो अलर्ट मौसम विभाग का तीसरा कलर है।जिससे यह बताने का प्रयास करता है कि खतरे के प्रति सावधान रहें और मौसम पर नजर रखें। अपने रहन सहन और स्वास्थ के प्रति सावधान रहें।

ग्रीन अलर्ट

यातायात में उपयोग करें जाने वाला ग्रीन कलर की तरह मौसम विभाग में भी शुभ संकेत लेकर आता है और कहता है कि खतरे की कोई बात नहीं है। बढ़ते चले जाओ।

weather update
Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned