मेट्रो पर सवार होकर सीएम योगी आदित्यनाथ चुनावी मंजिल का सफर करेंगे तय !

नवंबर 2021 तक आईआईटी से मोतीझील तक दौड़ने लगेगी मेट्रो, सोमवार को आइआइटी से राष्ट्रीय शर्करा संस्थान के बीच पिलर पर पहला पियर कैप रखा गया।

By: Vinod Nigam

Published: 03 Mar 2020, 09:10 AM IST

कानपुर। भारतीय जनता पार्टी जब 2017 के विधानसभा चुनाव में उतरी तो पार्टी के पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल की उपलब्धियों थीं तो वहीं अखिलेश सरकार की नाकामियां। इसके अलावा कई अन्य मुद्दे थे, जिसके चलते सूबे में कमल का फूल खिला। लेकिन 2022 से पहले योगी सरकार कानपुर को बड़ा तोहफा देने जा रही है। नवंबर 2021 तक आईआईटी से लेकर मोतीझील तक मेट्रो पूरी रफ्तार से दौड़ने लगेगी और सीएम योगी आदित्यनाथ कानपुर की पहली मेट्रो में सफर करेंगे तो वह एक चुनावी मंजिल भी तय करेंगे।

पहला पियर कैप रखा गया
सीएम योगी आदित्यनाथ ने अति महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक कानपुर मेट्रो का कार्य बहुत तेजी से हो रहा है। सोमवार को आइआइटी से राष्ट्रीय शर्करा संस्थान के बीच पिलर पर पहला पियर कैप रखा गया। पियर कैप रखने के कार्य का शुभारंभ खुद यूपी मेट्रो कारपोरेशन के निदेशक कुमार केशव ने किया। कानपुर मेट्रो के पहले चरण में आईआईटी से मोतीझील नौ किलोमीटर तक ऐलीवेटेड ट्रैक का निर्माण किया जा रहा है। इस काम की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि तय समयसीमा से भी निर्माण कार्य में तेजी दिखाई जा रही है।

अपेक्षा तीन माह पहले
यूपी मेट्रो कॉरपोरेशन के निदेशक कुमार केशव ने आईआईटी से एनएसआई के बीच पिलर नंबर 19 पर मेट्रो के पहले पियर कैप का शुभारंभ किया। जब क्रेन की सहायता से पहला पियर कैप रखा गया तो निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के साथ यूपी मेट्रो कॉरपोरेशन के अफसरों के चेहरे पर प्रसन्न्ता के भाव दिखे। कुमार केशव ने बताया कियह काम लखनऊ मेट्रो परियोजना की अपेक्षा तीन माह पहले किया गया है। हम उम्मीद करते हैं कि तय समय सीमा से पहले कानपुर के लोग मेट्रो का सफर कर सकते हैं।

सीएम ने किया था शिलान्यास
बतादें कानपुर मेट्रो परियोजना के पहले चरण के सिविल वर्क का शिलान्यास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले वर्ष 15 नवंबर को किया था। लगभग साढ़े तीन माह के समय में ही कानपुर मेट्रो परियोजना के प्रयॉरिटी कॉरिडोर के अंतर्गत 600 से ज्यादा पाइल्स की खुदाई का काम पूरा हो चुका है और 42 पियर तैयार किए जा चुके हैं। इसके साथ-साथ समानान्तर रूप से कास्टिंग यार्ड में यू-गर्डर और पियर कैप की कास्टिंग का काम भी हो रहा है। यूपी मेट्रो कारपोरेशन के निदेशक कुमार केशव ने कहा कि यूपीएमआरसी की टीम कानपुर मेट्रो परियोजना को निर्धारित समय-सीमा के भीतर पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। शहर को जल्द से जल्द एक विश्वस्तरीय मेट्रो सिस्टम का तोहफा दिया जाए.।

मेट्रो निभाएगी अहम रोल
कारपोरेशन के अधिकारियों की मानें तो आईआईटी से मोतीझील तक मेट्रो का कार्य 2021 तक हर हाल में हो जाएगा। साथ ही 30 नवंबर 2021 तक मेट्रो का संचालन शुरू करने की तैयारी के लिए अभी से प्लाॅनिंग कर ली है। यदि यूपीएमआरसी अपने इस प्रोजेक्ट में समयबद्ध रहा तो अपनी सरकार के कार्यकाल में मेट्रो की नींव रखने और कार्यकाल के अंतिम दौर में संचालन का पूरा श्रेय योगी सरकार को जाएगा। सो जब कानपुर व आसपास के जिलों में सीएम योगी आदित्यनाथ चुनाव प्रचार पर निकलेंगे तो उनके पास विकास के एजेंडे को धार देने के लिए मेट्रो अहम रोल निभाएगी।

Prime Minister Narendra Modi
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned