नरेश उत्तम ने योगी सरकार पर बोला हमला, विधानसभा में उठाएंगे पिटाई का मुद्दा


गजनेर थानाक्षेत्र मे दो वर्गो के बीच हुई थी झड़प, कई महिलाएं, बच्चे और ग्रामीण हुए थे घायल, उर्सला अस्पताल पहुंचे सपा प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप।

कानपुर। गजनेर थानाक्षेत्र में बीतें दिनों दो पक्षों के बीच खूनी संघर्ष हुआ था। यहां एक दर्जने से ज्यादा एक वर्ग की महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग घायल हुए थे। पीड़ितों से मुलाकात के लिए समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम रविवार को उर्सला अस्पताल पहुंचे। सभी को दर्द जाना और फिर से मीडिया से मुखाबित होते ही योगी सरकार पर जमकर जुबानी हमला बोला। उन्होंने कहा कि सूबे में जंगलराज है। दलित, गरीब, मजदूर, किसानों के साथ अत्याचार किया जा रहा है। इस पूरे मामले पार्टी विधानसभा में उठाएगी और निष्पक्ष जांच व आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा मिले इसकी मांग करेगी।

क्या है पूरा मामला
गजनेर थानाक्षेत्र के मंगटा गांव किनारे गौतम बुद्ध पार्क में 8 फरवरी को कथा पूजन कराया गया था। 13 फरवरी को भीम शोभा यात्रा निकाली जानी थी। तय समय पर सुबह लोग शोभा यात्रा निकाल रहे थे। इस बीच अनुसूचित जाति व क्षत्रिय बिरादरी के लोगों में विवाद हो शुरू हो गया। दोनों ओर से पथराव व मारपीट होने से अफरातफरी मच गई और दर्जनभर से ज्यादा लोग घायल हो गए। इनमें से महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उर्सला अस्पताल में एडमिट करा कई आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

कांग्रेस के बाद सपा प्रदेश अध्यक्ष पहुंचे
शनिवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में एक प्रतिनिधित्व मंडल अस्पताल पहुंचा था और पीड़ितों से मुलाकात के बाद मंगटा भी गया था। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के अगुवाई में एक टीम रविवार को उर्सला पहुंची। घायल महिलाओं और बच्चों से मुलाकात मामले की जानकारी ली। इस मौके पर सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की सरकार में कोई भी सुरक्षित नहीं हैं। मंगटा गांव में जिस तरह से दबंगों ने महिलाओं को पीटा वह दुखद है। पीड़िता ने बताया है कि आरोपियों को भाजपा के नेताओं का संरक्षण मिला हुआ है और इसी के चलते अभी तक कई आरोपी गिरफ्तार नहीं किए गए।

प्रदेश में अराजकता का महौल
नरेश उत्तम ने कहा कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार आई है, जब से कानून-व्यवस्था पूरी तरह से फेल है। अपराधी खुलेआम लोगों को मार रहे है। अल्पसंख्यक समाज के साथ घटनाएं बढ़ी हैं। पूरे सूबे में अराजकता का महौल है। नरेश उत्तम ने कहा कि इससे पहले प्रदेश की कानून व्यवस्था इतनी खराब कभी नहीं रही है। कानपुर देहात की घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। यह प्रदेश सरकार के माथे पर कलंक है। सदन के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष ये मुद्दा रखा जाएगा। जिससे कि पीड़ितों को न्याय और दोषियों को कठोर सजा मिल सके।

सरकार बनी तो लिया जाएगा हिसाब
सपा प्रदेश अध्यक्ष ने सूबे के हालात पर बोलते हुए कहा कि पांच साल अखिलेश यादव यूपी के सीएम रहे। बिना भेदभाव के सभी धर्म, समुदाय व जाति के लोगों का विकास कार्य कराया। पर योगी सरकार में भेदभाव किया जा रहा है। नरेश उत्तम ने अधिकारियों से कहा कि वह संविधान के मुताबिक लोगों का कार्य करें। सरकार आती हैं और जाती हैं। लोकलंत्र में नौकरशाहों की अहम भमिका होती है। नरेश उत्तम ने कहा कि 2022 में सपा की सरकार बनने के बाद जिन्होंने कानून के विपरीत कार्य किया होगा उसकी जांच कराई जाएगी और पूरा हिंसाब लिया जाएगा।

Bharatiya Janata Party
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned