बात मानने से किया इंकार तो भतीजे ने चाची का गला रेंतकर उतार दिया मौत के घाट

 


घाटमपुर थानाक्षेत्र का मामला, पैसों के लेनदेन के कारण भतीजे ने वारदात को दिया अंजाम, मृतका के बेटे ने चचेरे भाई का लिया नाम।

By: Vinod Nigam

Published: 23 Apr 2020, 07:35 PM IST

कानपुर। घाटमपुर थानाक्षेत्र के गुरैय्यन गांव में गुरूवार को दिलदहाला देने वाली वारदात सामने आई। यहां पर एक भतीजे ने चंद पैसों को लेकर अपनी चाची का गला रेंतकर हत्या कर दी। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

घर पर बच्चों के साथ ही अर्चना
गुरैय्यान निवासी धीर सिंह यादव अपनी पत्नी अर्चना, बड़े बेटे आयुष (12) और छोटे बेटे दीपांशु (10) के साथ रहते थे। धीर सिंह के बड़े भाई के बेटा जय सिंह भी साथ में रहता था। धीर सिंह सुबह खेत में गेहूं काटने के लिए गए थे। इसी का फाएदा भतीजे धीरज ने उठाते हुए उनकी पत्नी अर्चना सिंह की हत्या कर मौके पर फरार हो गया। ग्रामीणों ने वारदात की जानकारी धीर सिंह को दी। वह घर लौटा तो पत्नी का रक्तरंजित शव जमीन पर पड़ा था।

बेटे ने जय सिंह का लिया नाम
पुलिस ने गांव वालों और दीपांशु से पूछताछ की। दीपांशु ने ट्रक चालक चचेरे भाई जय सिंह का नाम लिया। उसने बताया कि रात में मां अर्चना के पास चचेरा भाई जय सिंह आया था और उसी ने मां को मार डाला। पुलिस ने गांव में तलाश की लेकिन आरोपित जयसिंह नहीं मिला। रात में उसके गांव में होने की पुष्टि हुई लेकिन सुबह तक वह फरार हो गया। पुलिस ने जय सिंह के पिता राजा सिंह को हिरासत में लिया है।

कुछ इस तरह से बोले एसपी
एसपी ग्रामीण प्रदुम्न सिंह ने बताया तहरीर के आधार पर आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। हत्या के पीछे लेनदेन के विवाद की बात सामने आ रही है। घर वालों ने पुलिस को धीर सिंह से लेनदेन का विवाद होने की जानकारी दी है। पुलिस सभी बिंदुओं के आधार पर घटना की जांच कर रही है। साथ हीह फरार आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned