इम्पैक्ट:इस समस्या की वजह से लोग पलायन करने को थे मजबूर, अफसर ने दिए निर्देश, दौड़ी खुशी की लहर

Arvind Kumar Verma

Updated: 11 Jul 2019, 05:46:40 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-जनपद के रसूलाबाद क्षेत्र के भौंथरी गांव के ग्रामीणों में उस समय खुशी की लहर दौड़ गयी, जब 72 साल बाद गांव में बिजली की रोशनी देखने के आसार दिखने लगे। दरअसल आज़ादी के बाद से लेकर आज तक इस गांव के ग्रामीण बल्ब की रोशनी देखने को तरस रहे थे। इस समस्या को लेकर पत्रिका की टीम ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया। समस्या को गंभीरता से लेते हुये जिले के मुख्य विकास अधिकारी ने विद्युतीकरण का कार्य जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके बाद विभागीय अफसरों की सक्रियता से गांव में काम मे तेजी आई है।

 

कानपुर देहात के रसूलाबाद विकास खंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत कपराहट का मजरा भौथरी अभी तक अंधेरे में जीवन व्यतीत कर रहा था। यहां नन्हे मुन्ने बच्चों का भविष्य भी दीपक की रोशनी से होकर गुजरता था। गांव में बिना बिजली के ही लोग अपना जीवन यापन करते थे। सर्दी, बरसात हो या गर्मी ग्रामीणों के लिए बिजली समस्या नासूर बन चुकी थी। यहां तक कि गांव में शादी विवाह के किये लोग रिश्ते लेकर नहीं पहुंचते थे। ऐसे में लोग परेशान होने लगे और गांव छोड़ने पर मजबूर हो गए थे। इस गंभीर समस्या की जानकारी होने पर पत्रिका टीम ने ग्रामीणों की परेशानी को समझते हुए खबर को प्रकाशित किया।

 

इसके चलते खबर को संज्ञान में लेते हुए कानपुर देहात के मुख्य विकास अधिकारी जोगिंदर सिंह ने गांव में विद्युतीकरण में तेजी लाने के निर्देश दिए। इसके बाद गांव में लोगों के घरों में बिजली के मीटर लगाए गए और कनेक्शन किए गए। फिलहाल अब इच्छुक व्यक्ति कनेक्शन करवा रहे हैं। फिलहाल बिजली समस्या से निजात मिलने की आशा पर ग्रामीणों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गयी। यहां तक कि ग्रामीण अब घरेलू बिजली के उपकरण लाने की योजना बनाने में जुट गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned