नोडल अफसर एडीजी ने क्रय केंद्र प्रभारी को दी हिदायत, थानों में पुलिसकर्मियों को दिए टिप्स

थानों पर निरीक्षण के दौरान जनता की सुनवाई के लिए पुलिसकर्मियों से मधुर व्यवहार रखने की बात कही।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 29 Dec 2020, 07:26 PM IST

कानपुर देहात-शासन के निर्देशों के पालन की जमीनी हकीकत परखने के लिए नोडल अफसर एडीजी संदीप सालुंके ने एसपी के साथ कानपुर देहात का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने थानों सहित धान क्रय केंद्रों का बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने क्रय केंद्रो पर मौजूद कर्मचारियों सहित अफसरों से कहा कि किसानों को धान केंद्रों पर समस्या न हो। साथ ही उनकी फसल खरीद तुरंत की जाए। थानों पर निरीक्षण के दौरान जनता की सुनवाई के लिए पुलिसकर्मियों से मधुर व्यवहार रखने की बात कही। उन्होंने कहा फरियादियों का समय से निस्तारण भी कराएं।

जिले के डेरापुर पहुंचे एडीजे संदीप सालुंके ने तहसील का निरीक्षण किया। उन्होंने एसडीएम से काश्तकारों के बाबत जानकारी हासिल की। एसडीएम ऋषिकांत राजवंशी ने उन्हें बताया कि डेरापुर तहसील में बड़े 16 से 17 बीघा के काश्तकारों की संख्या कम है और 5 से 7 बीघा वाले काश्तकारों की संख्या अधिक है। धान खरीद अक्टूबर माह से की जा रही है। धान तौल के लिए 40 से 50 क्विंटल वाले काश्तकारों पहले वरीयता दी जा रही है। वहीं तहसील के बाद डेरापुर थाने पहुंचे एडीजी ने थाने में लगे सीसीटीवी कैमरों के बारे में पूछा तो कोतवाल समीर कुमार सिंह ने बताया कि चार सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं, जो कि चालू हैं। महिला हेल्प डेस्क का निरीक्षण किया।

उन्होंने वहां पर तैनात आरक्षी राखी को महिलाओं की शिकायतों को सही से सुनने व निस्तारित करने की बात कही। थाने में सफाई देख उन्होंने सराहना की। इसके बाद फत्तेपुर धान खरीद केंद्र पर पहुंचे एडीजी को किसानों ने टोकन मिलने के बाद भी कई कई दिन लाइन में लगकर देरी से धान तौल कराए जाने की शिकायत की। इस पर खरीद केंद्र प्रभारी राजमुनि ने एडीजी को बताया कि 30,000 क्विंटल लक्ष्य के सापेक्ष 22000 क्विंटल धान की खरीद की जा चुकी है। मौके पर 9000 से अधिक क्विंटल धान खुले में जमा है। मिल में डिलीवरी ना होने से धान खरीद करने के लिए जगह कम पड़ रही है इसलिए थोड़ी असुविधा है। एडीजी ने एसडीएम से कहा कि इसे जल्द देखें और किसानों को समस्या न होने पाए।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned