कर्नलगंज के बाद अब यहां एक परिवार पलायन को मजबूर, बाहर लिखा मकान बिकाऊ

-चमन नगर में विश्वनाथ का परिवार पलायन करने को मजबूर,
-पीड़ित ने घर के बाहर दीवार पर लिखा है, 'मकान बिकाऊ है',
-पीड़ित के मुताबिक उसका घर दूसरे संप्रदाय से है घिरा,

By: Arvind Kumar Verma

Published: 03 Jul 2021, 03:23 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. शहर के कर्नलगंज रेल पटरी इलाके के बाद अब राजीव नगर के चमन नगर इलाके में एक परिवार पलायन को मजबूर है। आपसी विवादो से तंग आकर विश्वनाथ के परिवार ने घर की दीवार पर मकान बिकाऊ लिख दिया है। विश्वनाथ का घर दूसरे संप्रदाय के परिवारों से घिरा हुआ है। पीड़ित विश्वनाथ गुप्ता के मुताबिक उन्होंने 2001 में राजीव नगर के चमन नगर का मकान खरीदा था। जब रहने लगे तो दिन कुछ बाद उन्हें पता चला कि पूरा मोहल्ला मुस्लिम परिवारों का है। उनका ही एक परिवार बीच में है। धीरे-धीरे समय गुजरने पर लोगों का व्यवहार बदल गया।

यह भी पढ़ें: ये हिंदू परिवार घर छोड़ पलायन करने को मजबूर, घर के बाहर लिखा 'मकान बिकाऊ', जानिए वजह

कुछ समय बाद मोहल्ले के लोगों ने आये दिन विवाद करना शुरू कर दिया। घर का सुख चैन सब छीन गया है इसलिए वह परिवार के साथ पलायन करने को मजबूर हैं। बताया कि कई बार इस मसले को लेकर पुलिस से शिकायत कर चुके हैं, लेकिन उनके बड़े भाई राजीव गुप्ता उनके खिलाफ होकर मोहल्ले वालों का साथ देने लगे। शिकायत करने पर वह पारिवारिक विवाद बता देता था इससे मामला दबा रहा। उनका आरोप है कि बड़ा भाई कोई भी अप्रिय घटना उनके साथ कर सकता है।

पीड़ित विश्वनाथ गुप्ता ने बताया कि बुधवार शाम का वाकया है जब वह पत्नी संग घर के बाहर खड़े थे। तभी मोहल्ले में रहने वाला नफीस एक हाथ में मुर्गा और दूसरे में चाकू लेकर घर से निकला। तभी गाली-गलौज करते हुए बोला कि या तो मेरी बात मान लो या फिर घर बेचकर भाग जाओ। फिर उसने सामने ही मुर्गे की गर्दन काटते हुए इशारा किया कि वरना ऐसा ही होगा। उसकी इस हरकत की जानकारी मिलने पर पहुंचे बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने जब हंगामा किया। तो इसके बाद नौबस्ता पुलिस पहुंची थी।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned