इस तरह किसानों की लग गयी क्लास, फिर सिखाया गया ये सबक, जानिए

इस तरह किसानों की लग गयी क्लास, फिर सिखाया गया ये सबक, जानिए

Arvind Kumar Verma | Updated: 20 Dec 2018, 10:53:36 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

अब किसानों को फसलों में अधिक पैदावार के लिए किसानों की पाठशालाएं की जा रही हैं

कानपुर देहात-सूबे की बीजेपी सरकार को इस समय प्रदेश के किसानों की चिंता सता रही है। कहीं धान फसल खरीद के लिए गंभीर है तो कहीं खाद बीज के लिए अफसरों को सख्त निर्देश दिए गए। वहीं अब किसानों को फसलों में अधिक पैदावार के लिए किसानों की पाठशालाएं की जा रही हैं, जहां किसानों को फसल की तकनीक संबंधी नई-नई जानकारियां दी जा रही हैं। इसके तहत कानपुर देहात में भी यह कार्यक्रम जारी है। किसान पाठशाला में जिले की 102 न्याय पंचायतों में कक्षाएं लगाई गईं। इसमें बहुफसल उगाकर किसानों को समृद्ध होने के गुर बताये गए।

 

कानपुर देहात के सरवनखेड़ा विकास खंड के मोहाना प्राथमिक स्कूल परिसर में किसान पाठशाला के दौरान जिला कृषि अधिकारी कुलदीप मिश्र ने किसानों को बताया कि बहुफसल पद्धति से किसान आय को बढ़ा सकते हैं। उन्होंने खेती के, पशुपालन, बागवानी व बकरी पालन आदि के जरिए किसानों को आय बढ़ाने का तरीका बताया। उन्होंने बताया कि मध्य मैदानी क्षेत्र के किसान धान, गेहूं, हरी खाद के साथ गाय पालन भी कर सकते हैं। इसके साथ ही अमरूद या फिर पपीता की सह फसल भी की जा सकती है। खेतों की मेड़ पर करौंदा की पौध लगाकर उगाया जा सकता है। पूर्वी मैदानी क्षेत्र के किसानों के लिए कुक्कुट पालन बेहतर विकल्प के रूप में है। साथ ही मशरुम की खेती की जा सकती है।

 

बताया कि फसल को बीच शोधन के बाद ही बोना चाहिए। इससे जमाव सही होता है और इसका लाभ उपज के तौर पर मिलता है। इस दौरान जैविक खेती के माध्यम से आय बढ़ाने का तरीका भी बताया गया। बाद में किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए पांच लाख रुपये का दुर्घटना बीमा लाभ मिलने की जानकारी भी मुहैया कराई गई। रुपे कार्ड से किसान फसली ऋण निर्धारित लिमिट कर निकाल सकते हैं। यहां किसान व अन्य विभागीय कर्मी मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned