इन हालातों में अब निजी नर्सिंग होम में भी होगी ये सुविधा, जिलाधिकारी ने दिए निर्देश

जिससे कि आपात कालीन स्थिति में उनका प्रयोग किया जा सके।

कानपुर देहात-कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर जिले के जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह गंभीर दिख रहे हैं। उन्होंने निजी नर्सिंग होम संचालकों, अधिशासी अधिकारी, पूर्ति अधिकारी सहित अन्य अधीनस्थ अधिकारियों से वार्ता की। जिसमें निजी नर्सिंग होम संचालकों को आइसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए गए। जिससे कि आपात कालीन स्थिति में उनका प्रयोग किया जा सके। दरअसल ऐसी आपदा की घड़ी में बचाव व आइसोलेशन ही इससे बचने का तरीका है। इसलिए आपात कि स्थिति में लोगों को सही समय पर इलाज मिल सके।

कानपुर देहात के जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सावधानी ही मुख्य उपचार है। लोग एहतियात बरतकर इससे बच सकते हैं। उन्होंने नर्सिंग होम संचालकों को संबोधित करते हुए कहा कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाएं। ताकि विशेष स्थितियों में उनका प्रयोग किया जा सके। इसके साथ ही फीवर जांच करने वाली इन्फ्रारेड थर्मामीटर मशीन को अस्पताल में अवश्य रखें। वार्डों को सोडियम हाइपो और ब्लीचिंग पाउडर दवाओं से साफ कराएं।

उन्होंने कहा कि हर तीन घंटे में वार्ड में साफ सफाई कराएं। आने वाले मरीजों के लिए हांथ धुलने के लिए अलग से व्यवस्था कर दे। उन्होंने ईओ को संबोधित करते हुए कहा कि नगर पंचायत क्षेत्रों में साफ सफाई व्यवस्था का विशेष ध्यान रखें। इसके साथ ही राशन की जमाखोरी न करने व निर्धारित मूल्य से अधिक रुपये न लेने को लेकर जिला पूर्ति अधिकारी व विपणन अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि गैर राज्य व देश से आने वाले लोगों को लेकर विशेष सतर्कता बरतें और सूची तैयार रखें।

Corona virus
Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned