अफसर की कुर्सी नहीं भायी, अब आईआईटी से करेंगे पढ़ाई

अफसर की कुर्सी नहीं भायी, अब आईआईटी से करेंगे पढ़ाई

Alok Pandey | Updated: 13 Aug 2019, 02:53:45 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

बड़े पदों से नौकरी छोड़कर आए ४० लोगों ने फिर से पढ़ाई का लिया निर्णय
जापान की एजेंसी ने आईआईटी के सहयोग से शुरू कराईं वीएलएफएम की कक्षाएं

कानपुर। बड़े पदों से नौकरी छोड़कर आए ४० लोगों ने फिर से पढ़ाई करने का फैसला किया है। इनके लिए आईआईटी में विशेष कोर्स वीजनरी लीडर्स फॉर मैन्युफैक्चरिंग (वीएलएफएम) के लिए कक्षाएं शुरू की गई हैं। एक साल के इस कोर्स में इन लोगों को मैनेजमेंट, प्रोडक्ट डिजाइनिंग और प्रोसेसिंग की ट्रेनिंग दी जाएगी। कानपुर के बाद इन्हें मद्रास, कोलकाता और जापान में भी कुछ समय की ट्रेनिंग दी जाएगी।

जापान की एजेंसी करा रही कोर्स
इन ४० लोगों के लिए जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीए) ने आईआईटी कानपुर, मद्रा और आईआईएम कोलकाता के साथ मिलकर वीएलएफएम की शुरुआत की है। इसकी कक्षाएं सोमवार से आईआईटी में शुरू हो गईं। इस कक्षा में पढऩे वालों में कोई किसी बड़ी कंपनी का मैनेजर है तो कोई बड़ा अफसर। सभी लोग बड़ी-बड़ी मल्टनेशनल कंपनियों से जुड़े हुए हैं।

१९ अक्टूबर तक चलेंगी कक्षाएं
एक साल के इस कोर्स की सभी कक्षाएं १९ अक्टूबर तक यहीं आईआईटी में चलेंगी। इस बैच को संबोधित करते हुए आईआईटी निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने कहा कि आप अब नई तकनीक और प्रबंधन के तौर तरीके सीखने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आपके पास अनुभव है, जिसके जरिए नए क्षेत्र में आप नए मुकाम हासिल कर सकते हैं।

आम छात्रों की तरह प्लेंसमेंट ड्राइव होगी
कोर्स पूरा करने के बाद इन लोगों को भी उसी तरह नौकरी दिलाई जाएगी, जिस तरह छात्रों को मौके दिए जाते हैं। छात्रों की ही तरह इनके लिए भी प्लेसमेंट ड्राइव आयोजित की जाएगी। हालांकि इससे पहले इन्हें आईआईएम कोलकाता, आईआईटी मद्रास और फिर जापान के एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में मैनेजमेंट, नए प्रोडक्ट को तैयार करने, डिजाइनिंग, प्रोसेसिंग की ट्रेनिंग भी दी जाएगी।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned