scriptPiyush Jain incident court reserve it dicision | इत्र व्यापारी पीयूष जैन पर अदालत ने निर्णय रखा सुरक्षित, जानें पूरा मामला | Patrika News

इत्र व्यापारी पीयूष जैन पर अदालत ने निर्णय रखा सुरक्षित, जानें पूरा मामला

पीयूष जैन के मामले में अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया है। पीयूष जैन की तरफ से अधिवक्ता ने जमानत की मांग की थी। जबकि डीजीजीआई विशेष लोक अभियोजक ने जमानत का विरोध किया था। मामला इत्र कारोबारी पीयूष जैन से जुड़ा है। जो विगत 27 दिसंबर से जेल में है।

कानपुर

Published: March 05, 2022 10:05:07 pm

अहमदाबाद के डायरेक्टर जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस डीजीजीआई ने चित्र व्यापारी पीयूष जैन के आनंदपुरी आवास पर छापा मारकर 177.45 करोड़ रुपए नकदी बरामद किया था। इसके साथ ही कन्नौज स्थित आवास से भी भारी मात्रा में नकदी, सोना और चंदन का तेल बरामद किया था। इत्र व्यापारी के यहां से भारी मात्रा में नकदी व सोना आदि बरामद होने की खबर कई दिनों तक चर्चा में रहा। अब यह मामला अदालत में चल रहा है। जहां अदालत ने इत्र व्यापारी पीयूष जैन पर सुनवाई करते हुए अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। पीयूष जैन मामले की सुनवाई प्रभारी विशेष मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में हो रहा है।

इत्र व्यापारी पीयूष जैन पर अदालत ने निर्णय रखा सुरक्षित, जानें पूरा मामला
Pattrika

अदालत में सुनवाई के दौरान डीजीजीआई विशेष लोक अभियोजक ने बताया कि बरामद रकम को पीयूष जैन ने अपना बताया था और उसने पिछले तीन-चार साल से टैक्स भी नहीं जमा किया है। यह रकम तीन फर्म के जरिए कमाया गया है। डीजीजीआई ने पीयूष जैन को आर्थिक अपराधी बतातेेे हुए कहा कि कन्नौज स्थित आवास पर छापामार कार्रवाई केे दौरा 23 किलो विदेशी सोना बिस्कुट के रूप में बरामद हुआ था। इसके साथ ही 600 लीटर चंदन का तेल जिसकी कीमत लगभग 6 करोड पर बताई जाती है।

बरामद बिस्कुट में विदेशी मार्का लगा था

डीजीजीआई ने बताया कि बरामद किया गये बिस्कुट में विदेशी मार्क लगा। एसबीआई कन्नौज की शाखा के बैंक लॉकर में ₹9 लाख भी मिले थे। पीयूष जैन जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। 600 लीटर चंदन तेल मामले की जांच भी हो रही है। यह जांच डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस और कस्टम विभाग कीीी टीम के द्वारा किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें

यूपी पुलिस से परेशान युवक एसपी कार्यालय पहुंचा आपदा के लिए, जानें पूरा मामला

पीयूष जैन की तरफ से आरोपों को गलत बताया गया

उज्जैन की तरफ से बहस कर रहे अधिवक्ता चिन्मय पाठक ने कहा कि जीएसटी विभाग अभी तक यह नहीं तय कर पर आया है। डीजीजीआई के पास केवल रुपए की बरामदगी का सबूत है इसके अतिरिक्त और कोई सबूत अदालत में पेश नहीं कर पाए । उन्होंने कहा कि जिन पर लगे सभी आरोप गलत हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

Punjab Borewell Accident: 8 घंटे के बचाव अभियान के बाद 6 साल के रितिक को बोरवेल से निकाला गया, अस्पताल में भर्तीBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाडपश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमआम आदमी पार्टी में शामिल होंगे कपिल देव! हरियाणा चुनाव से पहले AAP का बड़ा दांव, केजरीवाल संग फोटो वायरलपश्चिम बंगाल में BJP को बड़ा झटका, बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह TMC में हुए शामिलएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डचार धाम यात्रा: केदारनाथ में श्रद्धालुओं ने फैलाया कचरा, वैज्ञानिक बोले - यही बनता है तबाही का कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.