डीएफसी के भाऊपुर से खुर्जा तक रेलवे ट्रैक का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, क्या है खास

भाऊपुर से खुर्जा के बीच देश के पहले डीएफसी रेलवे ट्रैक के प्रधानमंत्री के हाथों मंगलवार को उद्घाटन होना है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 29 Dec 2020, 01:35 PM IST

कानपुर-डीएफसी के तहत भाऊपुर से खुर्जा के बीच रेलवे ट्रैक का आज पीएम मोदी वर्चुअल उदघाटन करेंगे। वहीं उनके आने के एक दिन पूर्व अधिग्रहीत जमीनों के हस्तांतरण में बड़ी गड़बड़ी सामने आने पर हड़कंप मच गया। दरअसल सदर और नरवल तहसील के 12 गांवों में सरकारी व किसानों की जमीनों को रेलवे के नाम जारी करने में रकबे में अंतर पाया गया है। मामले में डीएम आलोक तिवारी ने एक सप्ताह में जांच कर दोषियों पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। पहले चरण में कानपुर देहात के न्यू भाऊपुर से बुलंदशहर के खुर्जा के बीच देश के पहले डीएफसी रेलवे ट्रैक के प्रधानमंत्री के हाथों मंगलवार को उद्घाटन होना है।

परियोजना के दूसरे चरण के लिए अधिग्रहीत की गई जिन सरकारी और निजी जमीनों को रेलवे के नाम से जारी किया गया है उनके रकबे में काफी अंतर दिखाया गया है। कहीं पर रेलवे के हिस्से में जमीन का रकबा ज्यादा तो कहीं कम दिखा दिया गया है। जिलाधिकारी की ओर से जारी जांच के आदेश में बताया गया है कि नरवल तहसील के साढ़, सरसौल, फुफुआर, करीगबां, महाराजपुर, टिकरिया, हाथीपुर, छतमरा, नगवां और इमलीपुर गांव में जमीन हस्तांतरण में गड़बड़ी हुई है।

किसी गांव में दो तो किसी में चार मामले पकड़े गए हैं। इनमें 17 मामले निजी लोगों से जुड़े हैं। जबकि, दो सरकारी जमीनों का है और एक आम रास्ते का है। एडीएम-एलए प्रमोद कुमार का दावा है कि यह महज लिपिकीय त्रुटि है। लेकिन, जिलाधिकारी ने सरकार के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट में गड़बड़ी को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू करा दी है।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned