निमोनाइटिस, ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल कम होने पर होम्योपैथिक दवा कारगर - डॉ. आरती मोहन

कोविड-19 के के सिम्टम्स में होम्योपैथिक दवा की महत्वपूर्ण भूमिका, ले यह दवाइयां

 

By: Narendra Awasthi

Published: 18 Apr 2021, 09:18 PM IST

कानपुर. वायरल निमोनाइटिस से घबराए नहीं। 15% शहरवासी वायरल जनित बीमारियों की चपेट में है। इस बीमारी को हल्के में ना लें। वरिष्ठ होम्योपैथिक फिजीशियन डॉ हेमंत मोहन ने उक्त विचार व्यक्त किया ग्वालटोली में आयोजित विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन सैचुरेशन बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक दवाइयां कारगर साबित हो रही हैं। इस मौके पर बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद थे।

यह भी पढ़ें

बीजेपी ने काटा टिकट तो कुलदीप सिंह सेंगर की बेटी ने सोशल मीडिया पर पूछे ये सवाल

ऑक्सीजन सैचुरेशन बढ़ाने में होम्योपैथिक दवाएं कारगर

आरोग्यधाम के डॉ. हेमंत मोहन ने बताया कि कोरोनावायरस अब देश में विकराल रूप धारण कर चुका है। कोरोना केस में वायरल निमोनाइटिस प्रमुख लक्षण के रूप में सामने आ रहा है। सर्दी खांसी व सांस फूलने के लक्षण को कतई हल्के में ना लें। इस तरह की केसेस में होम्योपैथिक दवा कार्बो वेज सिक्स, एस्पीडोस्पर्मा, ब्रायोनिया, एल्बा अरेलिया रेसमोसा आदि अत्यधिक कारगर सिद्ध हो रही हैं। उन्होंने बताया कि बिना चिकित्सक की सलाह के एंटीबायोटिक का सेवन ना करें।

यह भी पढ़ें

कोविड-19 के कोई सिम्टम्स नहीं, पॉजिटिव बता भेज दिया कोविड-19 मेडिकल कॉलेज, आरोप - मिली मौत

स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर आरती मोहन की महत्वपूर्ण जानकारी

वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. आरती मोहन ने बताया कि डायबिटीज रोगी जिन्हें कोरोना का संक्रमण हुआ है। वह होम्योपैथिक दवा नेट्रम सल्फ का सेवन अवश्य करें। जिन मरीजों में ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल 80 से 90% तक आ रहा है। उनमें होम्योपैथिक दवाएं कार्बो वेज व एस्पीडोस्पर्मा लगातार लेने से तुरंत सुधार देखने को मिल रहा है और मरीज को किसी भी इमरजेंसी की परिस्थिति का सामना नहीं करना पड़ रहा है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned