कोरोना वायरस की चपेट में आई खाकी, फिर भी निडर होकर कर रहे ड्यिूटी

 

एक कांस्टेबल की रिपोर्ठ कोरोना पाॅजीटिव आने के बाद पूरे थाने को किया गया से सेनीटाइज, अन्य पुलिसकर्मियों के लिए गए जांच के सैंपल।

By: Vinod Nigam

Published: 23 Apr 2020, 06:50 PM IST

कानपुर। कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। गुरूवार को कानपुर जनपद में कुल 94 कोरोना पाॅजीटिव केस सामने आए तो वहीं एक कांस्टेबल भी महामारी की चपेट में आ गया। जिसके चलते पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। कांस्बेल को हैलट के कोविड-19 वार्ड में भर्ती करा अन्य सिपाहियों की भी जांच कराई जा रही है।

कुलीबाजार में तैनात था कांस्टेबल
अनवरगंज थानाक्षेत्र में तैनात एक कांस्टेबल कोरोना महामारी की चपेट में आ गया। कांस्टेबल की ड्यिूटी हाॅटस्पाॅट इलाके कुली बाजार में थी। यहां से करीब 3 दर्जन से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए। कांस्टेबल की रिपोर्ट पाॅजीटिव आने के बाद . अनवरगंज थाना को सेनीटाइज करने के साथ ही सिपाही के संपर्क में आने वाले लोगों के सैंपल लिए जा रहे हैं। इसके अलावा पूरे स्टाफ को क्वारंटाइन पर भेजने की बात कही जा रही है।

डेंजर जोन बना कुलीबाजार
बतादें कुली बाजार इनदिनों कोरोना वायरस का डेंजर जोन बन चुका है। कानपुर में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले कुली बाजार से ही जुड़े हुए हैं। इसके अलावा अनवरगंज, कर्नलगंज, जाजमऊ, रोशननगर, किदवईनगर, चमनगंज आदि जगहों पर कोरोना वायरस का कहर देखा जा रहा है। पुलिस-प्रशासन ने पहले ही इन इलाकों को हाॅटस्पाॅट घोषित कर सील कर दिया है। आने-जाने वालों पर रोक के साथ द्रोन के जरिए पूरे इलाके की निगरानी की जा रही है।

फिर भी जारी रहेगी जंग
नवाबगंज थाने में तैनात एक कांस्टेबल ने बताया कि पिछले 35 दिनों से उसे छुट्टी नहीं मिली। सिर्फ दो से तीन घंटे ही सोने को मिल रहा है, बवजूद हम निडर होकर ड्यिूटी कर रहे हैं। कांस्टेबल ने बताया कि हम कोरोना से नहीं डरते और इस युद्ध में यूपी पुलिस की जीत होगी। जबकि थानाध्यक्ष दिलीप बिंद ने बताया कि इस वक्त सिर्फ शहर के लोगों की सुरक्षा की चिंता है। परिवार से पिछले एक सप्ताह से बातचीत नहीं हुई। दिलीप कहते हैं कि लोग यदि लाॅकडाउन का पालन करें तो आने वाले कुछ दिनों में हमसब मिलकर कोरोना को हरा देंगे।

गांधीगिरी के जरिए पालन
लाॅकडाउन के वक्त सड़क पर सिर्फ यूपी पुलिस के जवान मुस्तैदी से खड़े नजर आते हैं। जिन इलाकों से कोरोना मरीज निकले वहां भी वह निडर होकर ड्यिूटी कर रहे हैं। भूखों को भोजन तो बीमार को कंधे में रखकर अस्पताल पहुंच रहे हैंे। इतना ही नहीं लाॅकडाउन के उल्लंघन करने वालों की पुलिस अब आरती तक उतार रही है। एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल कहते हैं कि हमारी लड़ाई कोरोना रूपी अदृश्य अपराधी के खिलाफ है। ऐसे में पुलिस तो अपना काम इमानदारी से कर रही है पर कुछ लोग बेवजह बाहर आकर वायरस के प्रसार का मौका दे रहे हैं। हमारी ऐसे लोगों से अपील है कि वह घर पर रहे और लाॅकडाउन का पालन करें।

अन्य के सैंपल लिए जा रहे हैं
कास्टेबल के कोरोना संक्रमित होने पर एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल का कहना है कि सिपाही के संपर्क में जितने लोग आए हैं, उनके सैंपल लिए जा रहे हैं। जो भी उनके क्लोज कांटैक्ट में आया है, उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जो भी निर्णय होगा, परिस्थितियों के अनुसार लिया जाएगा। एसपी ने कहा चुनौती गंभीर है पर निपटना तो पुलिस को ही है। पुलिस पहले की तरह निडर होकर अपना फर्ज निभा रही है।

Corona virus Corona Virus treatment coronavirus
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned