सपाइयों के काफिले को पुलिस बल ने रोका, जा रहे थे किसानों की ट्रैक्टर रैली में होने शामिल

पुलिस के इस कार्य से नाराज समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक कमलेश चंद्र दिवाकर ने कहा कि चाहे प्रदेश की सरकार हो या केंद्र की सरकार हो किसानों और युवाओं पर जुल्म कर रही हैं।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 26 Jan 2021, 06:26 PM IST

कानपुर देहात-गणतंत्र दिवस के अवसर पर किसानों द्वारा प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली में शामिल होने पहुंचे समाजवादी पार्टी के नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और ट्रैक्टर रैली को आगे नहीं बढ़ने दिया। दरअसल मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर समूचे प्रदेश में किसानों द्वारा कृषि कानूनों के विरोध में ट्रैक्टर रैली निकाली जानी थी। इसी को देखते हुए विभिन्न राजनीतिक दलों ने किसानों का समर्थन किया। इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव व कमलेश चंद्र दिवाकर किसान रैली में शामिल होने के लिए काफिले के साथ निकले।

इसके लिए वे रसूलाबाद विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत औझान कहिंजरी पहुंचे। वे किसानों के साथ आगे बढ़े ही थे कि पुलिस ने उनको व सैकड़ों सपा कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर चौकी में नजरबंद कर दिया। साथ ही रैली में शामिल होने जा रहे किसानों के ट्रैक्टरों को आगे नहीं बढ़ने दिया। पुलिस के इस कार्य से नाराज समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक कमलेश चंद्र दिवाकर ने कहा कि चाहे प्रदेश की सरकार हो या केंद्र की सरकार हो किसानों और युवाओं पर जुल्म कर रही हैं। यह सरकारें अब टिकने वाली नहीं है।

उन्होंने कहा कि किसान इन सरकारों को उखाड़ फेंकेगे। समाजवादी पार्टी किसानों के साथ निरंतर खड़ी रहेगी। किसान, नौजवान, गरीब, मजलूम को परेशान करने वाली भाजपा सरकार अब ज्यादा दिनों तक टिकने वाली नहीं है। यह सरकार अब ढह जाएगी। वहीं कई घंटों तक पुलिस सपाइयों को नजरबंद किए रही। देर शाम को समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव व पूर्व विधायक कमलेश दिवाकर सहित सैकड़ों सपाइयों को पुलिस ने छोड़ा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned