scriptPolice recovery list photo viral, police commissioner order enquiry | यूपी पुलिस तथाकथित वसूली लिस्ट सोशल मीडिया पर वायरल, पुलिस कमिश्नर ने दिए जांच के आदेश | Patrika News

यूपी पुलिस तथाकथित वसूली लिस्ट सोशल मीडिया पर वायरल, पुलिस कमिश्नर ने दिए जांच के आदेश

कानपुर पुलिस का एक ऐसा पत्र वायरल हुआ है। जिसको देखकर पुलिस मुंह छुपाने की स्थिति में आ गई है। यह पत्र जमकर वायरल हो रहा है। पत्र को लेकर कानपुर पुलिस सवालों के घेरे में है। पुलिस कमिश्नर ऑफिशियल ट्वीट पर जानकारी दी गई है कि जांच के बाद कार्रवाई के निर्देश दिए गए है।

कानपुर

Published: March 21, 2022 11:29:39 pm

यूपी पुलिस द्वारा वसूली करने का काला चिट्ठा अक्सर सामने आता रहता है। इसी प्रकार का एक काला चिट्ठा कानपुर पुलिस का सामने आया है। जिसमें महीने में ₹2 लाख से ज्यादा वसूली दिखाई गई है। यह रकम किस प्रकार और कहां से पुलिस तक पहुंचता है और पहुंचाने वाला व्यक्ति कौन है, इसकी भी जानकारी दी गई है। अब इस पत्र में कितनी सच्चाई है यह तो जांच का विषय है। लेकिन सोशल मीडिया पर फोटो जमकर वायरल हो रहा है। तमाम तरह की प्रतिक्रिया भी आ रही है। पत्र को संज्ञान में लेते हुए पुलिस कमिश्नर ने ट्विट कर जानकारी दी है कि जांच के आदेश दिए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि पत्र में कितनी सच्चाई है और गंभीर मामलों के आरोपियों से किस प्रकार वसूली होती है।

यूपी पुलिस तथाकथित वसूली लिस्ट सोशल मीडिया पर वायरल, पुलिस कमिश्नर ने दिए जांच के आदेश

वायरल पत्र जाजमऊ चौकी थाना चकेरी के नाम से जारी किया गया है और इसे वसूली लिस्ट बताया गया है। जिसमें चौकी इंचार्ज का भी नाम शामिल है लिस्ट में सबसे पहला नाम राजा रब्बानी का है। जिससे ₹50 हजार की वसूली होती है। जो चरस, गांजा का अवैध व्यापार करता है। इस मामले में वह कई बार जेल जा चुका है। दूसरा नाम का अशफाक और अफजाल का है। जिससे भी ₹50 हजार की वसूली होती है। इनके नाम भी चरस, गांजा का व्यापार लिखा है।

यह भी पढ़ें

मुफ्त दिखाई जाएगी "द कश्मीर फाइल्स", विधायक ने कहा यह फिल्म देखकर नई पीढ़ी तय करें...

पत्र में गैंगस्टर से लेकर शातिर अभियुक्त शामिल

तीसरा नाम नियाज पुत्र शाहिद का है। जिससे ₹25 हजार की वसूली होती है। इसी प्रकार नसीम पहलवान से 25 हजार, जुबेर आलम से 25 हजार, जानवर कटान का पैसा सलीम के द्वारा 50 हजार मिलता है। सूची में अंतिम नाम जुआ खेलने को लेकर है। जिसमें बताया गया है कि टीला का जुआ से प्रतिमाह ₹60 हजार मिलते हैं। पत्र के अनुसार या पैसा गैंगस्टर महफूज अख्तर और साउद अख्तर का करीबी हाजी अशरफ के माध्यम से चौकी इंचार्ज को जाता है। फिलहाल पुलिस की जांच रिपोर्ट में एक पत्र की सच्चाई का खुलासा होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: गुजरात ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.