छोटा राजन और मुन्ना बजरंगी के नाम पर डाक टिकट हुआ रिलीज, दोनों के नाम से छापे 12-12 टिकट

उत्तर प्रदेश के कानपुर में खूंखार अपराधी मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के नाम से डाक टिकट छाप दी गई। दोनों के नाम से 5-5 रुपए के 12-12 टिकट छाप दिए गए।

By: Karishma Lalwani

Published: 29 Dec 2020, 11:56 AM IST

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में खूंखार अपराधी मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के नाम से डाक टिकट छाप दी गई। दोनों के नाम से 5-5 रुपए के 12-12 टिकट छाप दिए गए। इस बात की जानकारी होने पर विभाग में हडकंप मच गया। मंगलवार सुबह ही प्रधान डाकघर का फिलैटिली विभाग सील कर दिया गया। पोस्ट मास्टर जनरल ने उच्च स्तरीय जांच शुरू करा दी है और प्राथमिक जांच के आधार पर एक जिम्मेदार क्लर्क को सस्पेंड कर दिया गया है।

इस गलती पर कानपुर के प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर जनरल विनोद कुमार वर्मा ने कहा कि ''भले ही माई स्टांप योजना के तहत कोई व्यक्ति आवश्यक दस्तावेज देकर अपनी तस्वीर के साथ डाक टिकट छपवा सकता है, लेकिन व्यक्ति को इस काम के लिए स्वयं डाकघर आना होगा, साथ ही आवश्यक दस्तावेज भी जमा करने होंगे। उसके बाद डाक विभाग के वेबकैम के माध्यम से उस आदमी का फोटो लिया जाता है। इस प्रक्रिया को पूरी करने के बाद ही डाक टिकट जारी किया जाता है।'' उन्होंने आगे कहा, ''मीडिया से जुड़ा हुआ कोई आदमी आया था उसने मुन्ना बजरंगी और छोटा राजन के नाम से दो फॉर्म भर दिए। उसने अपना पहचान पत्र जमा करवाते हुए उन दोनों के फोटो जमा करवा दिए। जब कर्मचारी ने उस आदमी से पूछा तो उसने कहा कि वह उन दोनों को जानता है। इस बात से संतुष्ट होकर कर्मचारी ने स्टांप छाप दिए और कोई जांच नहीं की।'' इस गलती के लिए संबंधित क्लर्क को निलंबित कर दिया गया है।

एक-एक दस्तावेज की हो रही जांच

माफियाओं के डाक टिकट जारी होने की खबर सामने आते ही डाकघरों में अफरा तफरी मच गई। सुबह 11 बजे तक कर्मचारी नहीं आए। अन्य सेवाएं भी कुछ देर के लिए बाधित रहीं। बाद में फिलैटली विभाग को खोला गया और माई स्टैम्प से जुड़ी फाइलों और दस्तावेजों को सीज कर दिया गया। एक-एक दस्तावेज की जांच की जा रही है। पूरे रिकार्ड का ऑडिट किया जा रहा है।

जानिये माय स्टांप स्कीम के बारे में

भारतीय डाक विभाग द्वारा एक योजना चलाई जा रही है जिसका नाम है 'माई स्टैम्प स्कीम''। इसके तहत कोई भी नागरिक अपनी या अपने किसी चहेते की तस्वीरें डाक टिकट पर छपवा सकता है। साल 2017 में मोदी सरकार ने इस स्कीम की शुरुआत की थी। इस योजना के अंदर कोई भी नागरिक 300 रुपए देकर 12 डाक टिकटें छपवा सकता है। इस तरह एक डाक टिकट की कीमत पांच रुपए है।

ये भी पढ़ें: हर गरीब का बनेगा पात्र गृहस्थी राशन कार्ड, जाने कार्ड बनवाने के फायदे, इस तरह करें आवेदन

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned