पहली बार गांव से लेकर शहर में लगा जनता कर्फ्यू’


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का दिखा असर, शहर की सभी बाजार सुबह से बंद, सड़कों पर सन्नाटा तो गांव की गलियों और खेतों में नहीं दिखे ग्रामीण।

By: Vinod Nigam

Published: 22 Mar 2020, 08:40 AM IST

कानपुरप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोरोना वायरस के खिलाफ जनता कर्फ्यू की अपील का असर उद्योनगरी में रविवार की सुबह देखा गया। शहर की सभी बाजार पूरी तरह से बंद थे तो वहीं गांव के गलियों में भी सन्नाटा पसरा हुआ था। कुछ लोग अपनी-अपनी छतों पर शंख के साथ ही ढोलक और थाली बजाकर कर्फ्यू को स्वागत किया।

दुकानों में लटक रहे ताले
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार की रात राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में लोगों से कोरोना वायरस महामारी को रोकने में सहयोग की अपील करते आगामी 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू के तौर पर मनाने की घोषणा की थी। जिसका असर सोमवार को देखने को मिला। नेहरू नगर की सबसे बड़ी इलेक्ट्रानिक्स बाजार बंद था तो वहीं परेड, पीरोड, सागर मार्केट रहमानी मार्केट के साथ ही सभी मॉल पर सन्नाटा पसरा था।

शाम से जड़े ताले
नवीन मार्केट स्थित ट्रीट व सागर रत्ना रेस्टोरेंट में शाम को ही ताला बंद कर दिया गया था। रेस्टोरेंट संचालको ने बाकायदा पोस्टर चस्पा किये हुए है जिनमे कोरोना से बचने का सुझाव दिया गया है। ट्रीट रेस्टोरेंट के सुपरवाइजर किशोर कुमार का कहना है कि जनता कर्फ्यू को लेकर हम लोग सपोर्ट कर रहे हैं। रेस्टोरेंट में आने वाले ग्राहकों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए यह कवायद की गई है। जो कस्टमर शाम को रेस्टोरेंट आए उन्हें वापस लौटाया गया।

शंख बजाकर कर्फ्यू का आगाज
आजाद नगर स्थिम शास़्त्री पार्क में सुबह के छह बजे आधा दर्जन लोग मॉस्क लगाकर हाथ में शंक और ढोलक लेकर पहुंचे। लोगों ने जनता कर्फ्यू का आगाज शंख और ढोलक बजाकर किया। पेशे से सरकारी बाबू दिलीप कुमार, रज्जन तिवारी, विशाल गुप्ता, विलाल भाई समेत अन्य ने कहा कि कोरोना वायरस खतरनका संक्रमण है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ये मुहिम सराहनीय है। हमसब सात बजे के बाद अपने-अपने घरों के अंदर होंगे और रात 9 बजे के बाद ही बाहर आएंगे।

पेट्रोल पंप में पड़े ताले
इस महाअभियान के तहत शहर के सभी पेट्रोल पंप रविवार को सुबह से बंद थे। रमईपुर में 24 घंटे खुला रहने वाले पेट्रोल पंप के संचालक ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए समस्त पेट्रोल पंप के संचालकों को 22 मार्च को पेट्रोल पंप पर दो कर्मचारी ही बुलाने का निर्देश दिया गया है। जनता कर्फ्यू के चलते आज सभी कंपनी इंडियन ऑयल, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम और भारत पेट्रोलियम सहित अन्य कंपनियों के पेट्रोल पंप बंद हैं। शहर के सभी पेट्रोल पंप संचालकों ने कोरोना वायरस के खात्मे में अपनी सहभागिता के लिए पेट्रोल पंप पर ताले जड़ दिए।

ये जरूरी सेवाएं बहाल
डीएम ने बताया कि जनता कर्फ्यू के दौरान श्रीनगर में मेडिकल स्टोर, दूध, अस्पताल आदि आकस्मिक सेवाएं बहाल रहेंगी। इसके अलावा बाजार, बस, टैक्सी, प्राइवेट व सरकारी कार्यालय सहित मंदिर भी श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ बंद रहेंगे। डीएम ने लोगों से कोरोना जैसी महामारी से बचाव व प्रधानमंत्री की अपील को ध्यान में रखते हुए सभी लोगों से घरों में ही रहने की अपील की है। जिससे कोरोना की इस जंग में प्रत्येक व्यक्ति अपना योगदान दे सके।

बड़की-छुटकी यादव भी कर्फ्यू के साथ
प्रधानमंत्री के जनता कर्फ्यू का असर शहर के अलावा गांव में भी दिखा। सुबह से ग्रामीण स्नान-ध्यान के बाद अपने-अपने घरों के अंदर कैद हो गए। साढ़ गोपालपुर ग्राम पंचायत के सभी सातों गांव में खेत में सिर्फ पक्षु-पक्षियों की चहलकदमी रही। रमईपुर में अब्दुल और मुईन खान ने देरशाम को ही लोगों को जनता कफ्यू में अपनी सहभागिता देने के लिए जागरूक किया तो गढ़ेवा में भी बड़की यादव और छुटकी यादव दूध लेकर नौबस्ता नहीं आए। बड़की यादव ने बताया कि करीब 100 लीटर दूध हरदिन हम दोनों भाई शहर लेकर जाते हैं पर जनता कर्फ्यू के कारण इसे देररात ग्रामीणों के घरों में बांट देंगे।

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned