खड़ी कार के अंदर हो रहा था जुल्म, फिर अचानक मासूम लड़की चीखती हुई निकली बाहर

दरिंदों ने यहां दरिंदगी की हदें पार कर दी। मासूम नाबालिग चीखती चिल्लाती रही लेकिन कार के बंद शीशों के बाहर उसकी दर्द भरी आवाज़ सुनने वाला कोई नही था।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 18 Dec 2018, 11:12 PM IST

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-दरिंदों ने यहां दरिंदगी की हदें पार कर दी। मासूम नाबालिग चीखती चिल्लाती रही लेकिन कार के बंद शीशों के बाहर उसकी दर्द भरी आवाज़ सुनने वाला कोई नही था। बस फिर हैवान उसे कार के अंदर ही रौंदता रहा और मासूम हैवानों का जुल्म सहती रही। ऐसी ही घटना कानपुर देहात के भोगनीपुर क्षेत्र में सामने आई, जहां 8 वर्ष की मासूम लड़की को लालच देकर वहशी युवक उसे एक कार में ले गया और फिर कार के अंदर ही उसके साथ दुष्कर्म किया। किसी तरह मासूम उस युवक के चंगुल से छूटकर सीधे घर पहुंची और परिजनों को आपबीती बताई, जिसे सुन परिजनों के होश उड़ गए। इस घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया। तत्काल अमरौधा पुलिस को घटना की सूचना दी गयी। इसके बाद तत्काल सक्रिय हुई पुलिस ने गांव के एक घर से आरोपित युवक को हिरासत में लिया है।

 

भोगनीपुर क्षेत्र के एक गांव निवासी फाजिल ने गांव की एक नाबालिग मासूम लड़की को लालच देकर बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया। इसके बाद गांव के बाहर मेला स्थल के समीप एक खराब खड़ी कार में उसे ले गया। जहां उसने उसके साथ दुष्कर्म कर डाला। किसी तरह पीड़ित मासूम हैवान से चंगुल से छूटकर भागते हुए अपने घर पहुंची और परिजनों को घटना का किस्सा बयां किया। इसकी जानकारी पर ग्रामीण भी बौखला उठे। मासूम के बताने के अनुसार ग्रामीणों ने युवक की तलाश की लेकिन नही मिला।

 

परिजनों ने घटना की सूचना अमरौधा चौकी इंचार्ज पवन दुबे को दी। सूचना पर आनन फानन में पहुंची पुलिस ने गांव में युवक की तलाश शुरू की। इसके बाद पुलिस ने युवक को गांव के ही एक घर से दबोच लिया। वहीं पीड़िता के पिता ने पुलिस को लिखित तहरीर देते हुए कार्यवाही मांग की है। इसके बाद पुलिस ने पीड़ित लड़की को डॉक्टरी परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा है। फिलहाल पुलिस मुकदमे की कार्यवाही में जुटी है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned