कानपुर देहात. निश्चित तिथि के अनुसार 11 अगस्त को नामांकन के दौरान बीडीसी सदस्य रेनू शर्मा और निखिल सिंह के द्वारा नामांकन पर्चा दाखिल कर दिया गया। वहीं 12 अगस्त को किसी का भी पर्चा वापसी न होने से रविवार को मतदान होना सुनिश्चित हो गया था। प्रमुख पद के लिये होने वाले मतदान को लेकर पूर्व संध्या पर ही सारी तैयारियां प्रशासन ने पूरी कर ली थी। लम्बे अरसे से चली आ रही ब्राह्मण व क्षत्रिय के बीच की खाई इस चुनाव में फिर लोगों को दिखने लगी है। वहीं पिछले नामांकन में हुए तांडव व दोनों दिग्गजों के आमने-सामने होने से पुलिस भी पूरी तरह से मुस्तैद हो चुकी है। धारा 144 लागू कर दी गयी है, जिससे झींझक मुख्य मार्ग पर सन्नाटा पसरा हुआ है। देर रात तक लोग सड़कों पर गुफ्तगू नहीं कर सके और पुलिस के जवान पेट्रोलिंग करते रहे।

Ad Block is Banned