कानपुर में भीषण सड़क हाद्सा 16 लोगों की मौत कई घायल

दुर्घटना के बाद बस पुल से नीचे गिर गई। रात होने की वजह से घायलों काे दुर्घटनाग्रस्त बस से निकालने में काफी समय लगा। भीषण दुर्घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ ने दुख जताते हुए मृतकों के परिवार वालाें काे दाे-दाे लाख रुपये और घायलों काे उपचार के लिए 50 हजार रुपये दिए जाने की घाेषणा की है।

By: shivmani tyagi

Updated: 08 Jun 2021, 11:57 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

कानपुर ( Kanpur ) सचेंडी थाना क्षेत्र के रतन खेड़ा हाईवे पर मंगलवार रात बस और लोडर की जाेरदार टक्कर में 16 लोगों की मौत हो गई। टक्कर इतनी भयंकर थी कि बस पलट गई। इस दुर्घटना में 16 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं। पुलिस ने घायलों काे अस्पताल पहुंचवाया है। दुर्घटना पर दुख जताते हुए मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिवार वालों काे दो-दो लाख रुपये की आर्थिक मदद दिए जाने और घायलों काे बेहतर से बेहतर इलाज दिए जाने की बात कही।

यह भी पढ़ें: दहेज में नहीं मिले रुपये तो पति ने सऊदी अरब से फाेन पर दे दिया तलाक

घटनाक्रम के अनुसार मंगलवार की रात को यात्रियों से भरी बस और एक लाेडर की आमने-सामने की सीधी टक्कर हो गई। यह दुर्घटना पुल पर हुई और टक्कर लगने के बाद बस पलटकर पुल से नीचे जा गिरी। यही कारण रहा कि 16 लोगों की मौत हो गई। घायलों में भी कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है। दुर्घटना की सूचना मिलते ही कई थानाें का फाेर्स मौके पर पहुंच गया। आस-पास के इलाकों से भी लोग आ गए और हात कार्य शुरू किया गया। दुर्घटना की सूचना मिलते ही आईजी मोहित अग्रवाल हैलट पहुंचे और घायलों काे बेहतर से बेहतर इलाज की व्यवस्था के निर्देश दिए। उधर मुख्य्मंत्री ने भी जिलाधिकारी से पूरी दुर्घटना की जानकारी लेते हुए घायलों काे बेहतर इरलाज दिलाने के निर्देश देते हुए दुर्घटना में मारे गए लाेगों के परिवार वालों को दो-दो लाख रुपये आर्थिक सहायता दिए जाने की घाेषणा की है। पीएमओ की ओर से भी मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये दिए जाने की बात कही है। उधर, भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने भी इस दुर्घटना पर दुख जताते हुए सरकार से मांग की है कि मृतकों के परिवार वालो काे उचित मुआवजा दिया जाए और घायलों के बेहतर उपचार की व्यवस्था की जाए।

यह भी पढ़ें: पुलिस लाइन में हाइवाेल्टेज ड्रामा, महिला कांस्टेबल ने बाबू काे जड़ा थप्पड़

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned