बस-कार की भिड़न्त के बाद मची चीख-पुकार, तीन दोस्तों ने 20 यात्रियों की बचा ली जान


बस चालक को झपकी आने के कारण हुआ हादसा, कार सवार पांच समेत 6 की मौत, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू।

Vinod Nigam

Updated: 18 Feb 2020, 04:22 PM IST

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। बिल्हौर थानाक्षेत्र के मकनपुर गांव स्थित लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे में देररात रोडवेज बस और कार की आपने-सामनें भिड़न्त हो गई। हादसे के बाद बस में फंसे यात्रियों ने बचाए जाने की गुहार लगाई। तीन दोस्त बाइक से घर जा रहे थे, तभी उन्होंने दर्दनाक हादसा देखा तो दौड़ लगा दी। बस के अंदर फंसे 20 यात्रियों के अलावा स्ट्रेरिंग में फंसे चालक को बाहर निकाल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पुलिस ने घायलों को अस्पताल में एडमिट करा शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी है।

कहां पर हुआ हादसा
दिल्ली से बिहार के मुजफ्नगर जा रही तेज रफ्तार बिहार राज्य सड़क परिहवन निगम की वॉल्वो बस के चालक को झपकी आने आ गई। जिससे चलते बस ने डिवाइडर पार कर आगरा से दिल्ली जा रही तेज रफ्तार फॉर्च्यूनर कार में जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि आसपास आसपास के लोग रात पौने एक बजे दौड़ पड़े। स्थानीय लोगों ने बस में फंसे लोगों को किसी तरह से बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। पुलिस व फायर बिग्रेड की टीम मौके पर पहुंची और राहत-बचाव कार्य में जुट गई।

कार सवारों की मौत
हादसें में कार सवार पांच लोगों की मौत हो गई। फॉर्च्यूनर कार समी उर्फ जोगिंदर चला रहे थे, जो त्रिलोकपुरी दिल्ली निवासी थे। जबकि कार में अन्य सुरजीत, राम शंकर, मुकेश कुमार सवार थे। जबकि बस चालक की भी हादसे में जान चली गई तो वहीं 20 यात्री भी घायल हुए। बस में 43 यात्री सवार थे। एसपी ग्रामीण के के मुताबिक फॉर्च्यूनर कार दिल्ली निवासी सुनीता सिंह के नाम से पंजीकृत है।

इस वजह से हुआ हादसा
दिल्ल्ी निवासी जोगिंदर सिंह अपने चार अन्य साथियों के साथ लखनऊ से आगरा की ओर जा रहे थे, जबकि वॉल्वो बस गाजियाबाद के कौशांबी से बिहार जा रही थी। चालक को झपकी आ गई और अचानक बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर को पार करते हुए दूसरी लेन पर जा पहुंची। चालक ने बस को मोड़ा और तभी बस सामने आ रही फॉर्च्यूनर से टकरा गई। इसके बाद बस चालक भी नियंत्रण खो बैठा और बस एक्सप्रेस-वे की बैरिकेडिंग तोड़ते हुए सर्विस लेन पर जा गिरी और छह लोग काल के गाल में समा गए।

इन्होंने बचाई जान
सिंघौली निवासी अमित दोस्तों प्रशांत, गोलू, वैभव के साथ शादी में मकनपुर आये हुए थे। घर वापस जाने के दौरान तेज आवाज सुनी तो इन सभी लोगों ने घटनास्थल की ओर बाइक दौड़ा दी। वहां पहुंचे तो बस में चीख पुकार मची हुई थी। अमित और उनके दोस्तों ने बस से सभी को बाहर निकाला। इसी बीच बस चालक ने बचाव की आवाज लगाई तो लोग उसकी ओर दौड़े। जब तक लोग उसे निकाल पाते, उसकी मौत हो गई। चालक की शिनाख्त नहीं हो सकी है। बस से सुरक्षित निकलने के बाद सवारियों ने युवाओं का धन्यवाद किया।

ये लोग हुए घायल
एसपी ग्रामीण के मुताबिक हादसे में बाद फॉर्च्यूनर सवार पांचों लोग कार में अंदर फंसे हुए थे। देर रात ही उन्हें निकालने के लिए गैस कटर मंगवाया गया। कार में फंसे शवों को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। सभी की पहचान हो चुकी है और उनके परिजनों को सूचना देकर बुला लिया गया है। जबकि नवनीत शंकर मुजफ्फरपुर, प्रदीप और कबीर मैनपुरी, मित्रा सिंह मैनपुरी, आलोक दिल्ली, प्रदीप, भूरी सिंह, राकेश, सुखबीर सिंह और अजय पाल समेत 20 से अधिक लोग हादसे में घायल हुए हैं।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned