भारत बंद में दिखी लालटोपी की धमक, अखिलेश के साथ आए शिवपाल समर्थक

भारत बंद में दिखी लालटोपी की धमक, अखिलेश के साथ आए शिवपाल समर्थक

Vinod Nigam | Publish: Sep, 10 2018 07:57:22 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर में भारत बंद के दौरान कांग्रेस से आगे निकले सपाई, भतीजे के साथ चाचा के करीबियों ने बड़चड़ कर ली हिस्सेदारी

कानपुर। पेट्रोल डीजल के मूल्यों के विरोध में विपक्षी दलों द्धारा भारत बंद के आवाहन पर कानपुर में मिला जुला असर देखने को मिला। बंद के दौरान किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए पुलिस-प्रशासन ने चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की हुई थी। कांग्रेसियों के साथ जहां पुलिस की झड़प हुई तो सपाईयों को भी खाकीधारियों की लाठियां खानी पड़ी। इस दौरान पूर्व मंत्री शिवपाल यादव के कई समर्थक समाजवादी पार्टी के बैनर के तले दिखे और बंद में बराबर भागीदारी निभाई। पूर्व सांसद राकेश सचान, राज्यसभा सांसद सुखराम सिंह यादव के गुट के दर्जनभर नेता लालटोपी लगाकर पुलिस के साथ दो-दो हाथ करते हुए देखे गए। शिवपाल यादव के करीबी रघुराज सिंह यादव ने कहा कि आज पूर्व मंत्री व राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अगल-अगल हैं। पर हमें मुलायम िंसंह यादव पर पूरा विश्वास है कि वो दोनों को लोकसभा चुनाव से पहले एक कर देंगे।

धरने पर बैठ गए विधायक बाजपेयी
डीजल पेट्रोल व रसोई गैस के बढे दामों को लेकर कांग्रेस पार्टी ने भारत बंद का आवाहन किया था। जिसका सहयोग समाजवादी पार्टी ने किया और सैकड़ों कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए और मोदी सरकार के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इसी दौरान नवीन मार्केट में सपा विधायक अमिताभ बाजपेई के नेतृत्व में कार्यकर्ता जिलाधिकारी को ज्ञापन देने के लिए कलेक्ट्रेट की तरफ कूच कर दिया। सपा कार्यकर्ता जैसे ही बड़े चौराहे पर पहुंचे तो वंहां पर पुलिस ने पहले से ही रास्ता ब्लाक किया हुआ था। पुलिस की इस कार्रवाई से सपा विधायक भड़क गए और सीएम योगी के खिलाफ नारे लगाने लगे। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर सपाईयों को खदेड़ दिया। पर विधायक अमितभ बाजपेयी ने नहीं मानें और सड़क पर बैठ गए। सूचना मिलते ही एडीएम सिटी विवेक श्रीवास्तव मौके पर पहुंचकर विधायक से ज्ञापन लेकर उन्हें शांत कराया।

बढ़चढ़ कर लिया हिस्सा
भारत बंद के दौरान जहां कांग्रेसियों ने अपनी ताकत दिखाई तो वहीं समाजवादी पार्टी भी लालटोपी में दिखी। कानपुर के वो बड़े नेता व शिवपाल के करीबी जो विधानसभा 2017 चुनाव के वक्त खुलकर अखिलेश के विरोध में आ गए थे, वो सोमवार को पूरी तरह से समाजवादी पार्टी के पक्ष में हल्लाबोलते हुए पाए गए। इस मौके पर सपा विधायक अमितभ बाजपेयी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को बर्बाद कर गरीबों को खून के आंसू रूला रहे हैं तो सीएम योगी संत होने के बावजूद जनता के साथ छल कर रहे हैं। बंद ने बीजेपी की उल्टी गिनती शुरू कर दी है। विधायक ने शिवपाल यादव के बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहा। पर इतना जरूर बोले की यहां पर जितने कार्यकर्ता हैं, वो सब लालटोपी लगाए हुए हैं। हमसब एक हैं और 2019 में पीएम मोदी को हराकर गुजरात भेज देंगे।

लाठीचार्ज पर बोले इरफान
कल्याणपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठीचार्ज के अलावा नवीन मार्केट पर सपाईयों के अलावा खुद के साथ पुलिस की हाथापाई से नाराज सपा विधायक इरफान सोलकी सीएम योगी आदित्यनाथ पर जमकर बरसे। इरफान ने कहा कि सीएम योगी के इशारे में पुलिस ने कार्यकर्ताओं को पीटा है। केंद्र जब यूपीए की सरकार थी तब इंटरनेशनल दाम ज्यादा होने के बाद भी सब्सिडी देकर आम जनता को राहत देती थी। मोदी योगी सरकार आने के बाद डीजल पेट्रोल और गैस में लगातार बढोतरी की जा रही है। तेलों के दाम बढाकर सरकार अपना खजाना भर रही है जिससे पूरी देश की जनता का शोषण हो रहा है। इसके विरोध में समाजवादी पार्टी के लोगां ने किया तो तो पुलिस ने बर्बरता पूर्वक व्यवहार किया। पुलिस ने मारपीट की धक्कामुक्की की। इरफान ने कहा कि की योगी मोदी सरकार डंडे के बल पर देश को चलाना चाहते है जिसको कांग्रेस बर्दाश्त नहीं करेगी । सारे सुकेलरवादी दल अब एक साथ आ रहे हैं और हमसब मिलकर संप्रदायिक ताकतों को 2019 में हरा देंगे।

Ad Block is Banned