अखिलेश को लगा तगड़ा झटका, 28 पदाधिकारियों ने छोड़ी सपा

Vinod Nigam

Publish: Mar, 17 2019 07:05:39 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। लोकसभा चुनाव प्रचार अपने चरम पर है। राजनीतिक दल एक-दूसरे को पटखनी देने के लिए रणनीति बना रहे हैं तो नेता भी टिकट नहीं मिलने के कारण अपने-अपने दलों को छोड़कर दूसरे का दामन थाम रहे हैं। इसी के तहत रविवार को समाजवादी पार्टी के 28 पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने एक साथ इस्तीफा देकर अखिलेश यादव की टेंशन बढ़ा दी। साइकिल छोड़नें वालों में छात्र सभा के प्रवक्ता गजेंद्र सिंह राजावत ने कहा कि अब सपा के अंदर समाजवाद पूरी तरह से खत्म हो चुका है। देश की सेना के शौर्य पर सबूत मांगा जा रहा है। ऐसे में हम जैसे राष्ट्रभक्त कभी भी इन दलों में नहीं रह सकते।

चापलूसों ने सपा को किया बर्बाद
गजेंद्र सिंह ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने मुलायम सिंह यादव व शिवपाल सिंह का अपमान कर उन्हें किनारे कर मायावती से गठबंधन कर लिया। बसपा प्रमुख ने मुलायम सिंह यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जब वो प्रदेश की सीएम थीं जब सपा कार्यकर्ताओं को जबरन जेल भिजवाया। बावजूद अखिलेश यादव कुछ चापलूसों के कहनें पर पार्टी का बेड़ागर्त कर दिया। गजेंद्र सिंह ने कहा कि अभी हम किसी राजनीतिक दल में जाने पर विचार नहीं किया। जल्द ही समर्थकों के साथ बैठक कर आगे की रणनीति पर मंथन करेंगे।

सवर्ण समाज का अपमान
गजेंद्र सिंह ने सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुनील साजन पर अरोप लगाते हुए कहा कि इन्होंने देश के वीरों व सवर्ण समाज को अपमानित करने वाली तिपण्णी की है। हमनें पार्टी प्रमुख को पत्र लिखकर साजन के खिलाफ कार्रवाई के लिए कहा, पर बदले में हमें ही सुरक्षाकर्मियों के जरिए पिटवाया गया। समाजवादी पार्टी के अंदर सवर्ण समाज के लिए कोई स्थान नहीं हैं। दल में सिर्फ कुछ समाज के लोगों की ही चलती है। जो इनके विरोध में बोलता है उसका अपमान किया जाता है। ]

सबूत मांगने वालों को सजा देगी जनता
गजेंद्र सिंह ने कहा कि देश की सेना व सरकार से सबूत मांगना सीधे-सीधे देश विरोधी मानसिकता है। लोकसभा चुनाव में वोट की चोंट से सजा देगी। गजेंद्र सिंह ने कहा कि ममता, अखिलेश, राहुल गांधी समेत अन्य बड़े नेताओं ने पाकिस्तान के खिलाफ हुई सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल खड़े किए। हमनें सपा की बैठक में इसका विरोध किया। सपा के गुंडों ने हमें बैठक से बाहर कर दिया। कहा, देश की आवाम इन दलों की सारी सियासत देख रही है। बसपा की तरह सपा 2019 में खाता नहीं खोल पाएगी। कन्नौज सीट से डिम्पल यादव चुनाव हारेंगी।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned