सीएम योगी की इस रणनीति के चलते मिली सफलता, लॉकडाउन के चौथे दिन सड़कों पर पसरा सन्नाटा


बेवजह घरों के बाहर नहीं निकले लोग, बाजार पूरी तरह से रहे बंद, पुलिस-प्रशासन के अलाधिकारियों भी खुश।

By: Vinod Nigam

Published: 29 Mar 2020, 09:05 AM IST

कानपुरकोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिन के लाॅकडाउन का ऐलान किया था। पहले दिन लोगों ने इसका पालन नहीं किया। बाजार, सड़कों में जनसैलाब उमड़ पड़ा। जिसके बाद प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मोर्चा संभाला तो अलाधिकारियों के साथ बैठक कर गांव, गली, मोहल्ले, कस्बों में राशन, फल, सब्जी दूध सहित तमाम जरूरत के समान भिजवाने के आदेश जिले के डीएम को दिए । जिसका असर शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में चौथे दिन देखने को मिला। अधिकांश सड़कें सूनी थीं तो गलियों में सन्नाटा पसरा था। कड़ी धूप में पुलिसकर्मी तैनात थे। डीएम, एसएसपी के अंलाव अन्य अलाधिकारियों की गाड़ियां भी दौड़ रही थीं। कुल मिलाकर शनिवार को कनपुरियों घरों के अंदर रहे।

घर-घर पहुंच रही खाद्य समाग्री
लाॅकडाउन को सफल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई चेन को मजबूत कर लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिले के अलाधिकारियों के साथ वीडियो कांन्फ्रेसिंग के जरिए कहा था कि लोगों के घर तक सब्जी, फल, दूध, दवा और अन्य आवश्यक वस्तुएं पहुंचाएं। जिसका असर भी दिखा। जाएं। इसके लिए पीआरवी-112 के वाहन, 108 और 102 सेवा की एंबुलेंस, प्रशासन और खाद्य एवं रसद विभाग के वाहन व संसाधन के जरिए पुलिस के साथ अन्य विभाग के कर्मचारी 24 घंटे ड्यूटी कर रहे हैं। हर जरूरतमंद को समान मुहैया करा रहे हैं।

घरों के अंदर रहे लोग
लाक डाउन के चौथे दिन जिलेवासी अपने घरों में कैद रहे। इमरजेंसी वाले ही अपने घरों से बाहर निकले। जिससे जिले की सड़कें, चैक-चैराहे व गलियां भी सूनी रहीं। घंटाघर, बड़ा चैराहा, पीरोड, नवाबगंज, नयागंज, मूलगंज बजरिया समेत आदि चैक-चैराहों पर कड़ी धूप में पुलिसबल के जवान तैनात थे। विष्णुपुरी काॅलोनी में तैनात पुलिस कर्मियों को मोहल्लेवासियों ने उनके पास पहुंचकर जलपान कराया तो पुलिस ने भी शहर के कुछ मोहल्लों में खाद्य सामग्री पहुंचाई गई।

दूरी बनाकर की खरीदारी
शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में दवा की दुकाने भी खुली रहीं। लोग शासन के निर्देशानुसार दूरी बनाकर लाइन में लगकर दवा खरीदते नजर आए। शनिवार को शहर व कुछ ग्रामीण इलाकों में खोली गई दुकानों पर स्टाक कम होने के कारण दुकानदारों ने ओवररेटिंग कर लोगों को सामान दिया। सब्जी, फल व दूध सहित अन्य जरूरत की समाग्री भी मोहल्लों में पहुंची, जिसके चलते लोग गलियों के बाहर नहीं निकले।

जनता कर रही पालन
लाकडाउन का जनता पूरा पालन कर रही है। चिह्नित दुकानदार समय से दुकान खोलकर बंद कर दे रहे हैं। शेष समय में बाजार में सन्नाटा पसरा रहता है। सिर्फ मेडिकल स्टोर सुबह से शाम तक खुले रहते हैं। लोगों का आवागमन भी बंद रहता है। इक्का-दुक्का लोग आते जाते हैं। बैंक अपने समय 10 बजे से दो बजे तक खुली रहती है। इसके अलावा गैस एजेंसियां व राशन की दुकानें भी खुलती हैं और लोगों को गेहूं, चावल दे रहे हैं।

लाॅकडाउन सफल
प्रशासन की ओर से ड्यूटी में लगाए गए कर्मी डोर टू डोर आवश्यक वस्तुएं पहुंचा रहे हैं। डीएम ने कहा कि लाकडाउन का पूरा पालन कराया जा रहा है। रसोई गैस, पानी ,फल ,सब्जी किराना तथा दूध जैसी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति कराई जाएगी। अनावश्यक घूमने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जा रही है। संकट की इस घड़ी में उन्होंने सभी के सहयोग की अपेक्षा की है। जो लोग गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं, या कोई इमरजेंसी है तो वह इलाज के लिए डॉक्टर से सलाह लेकर परचा व जांच रिपोर्ट के साथ बाहर जा सकते हैं।

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned