सेंसर युक्त 60 स्मार्ट कैमरों से लेस होगा कानपुर सेंट्रल

व्‍यापार और यात्रियों, दोनों ही नजरिए से कानपुर सेंट्रल अक्‍सर ही आतंकियों और अराजकतत्‍वों के निशाने पर रहता है. ऐसे में यदा-कदा यहां आतंकी गतिविधियों का डर बना ही रहता है.

By: आलोक पाण्डेय

Published: 20 Jul 2018, 12:07 PM IST

कानपुर। व्‍यापार और यात्रियों, दोनों ही नजरिए से कानपुर सेंट्रल अक्‍सर ही आतंकियों और अराजकतत्‍वों के निशाने पर रहता है. ऐसे में यदा-कदा यहां आतंकी गतिविधियों का डर बना ही रहता है. इसी भय को ध्‍यान में रखते हुए अब फैसला लिया गया है कि सेंट्रल पर जीआरपी व आरपीएफ के साथ ही साथ स्मार्ट कैमरों की सुरक्षा को भी मुस्‍तैद किया जाएगा.

ऐसी होगी हाईटेक व्‍यवस्‍था
सेंट्रल के अलग-अलग प्लेटफार्मों पर सुरक्षा व्‍यवस्‍था बेहद चौकस रखी जाएगी. इसके लिए यहां जल्द ही हाई डेफिनेशन के 60 से ज्‍यादा कैमरे लगाए जाएंगे. इन कैमरों की खासियत ये होगी कि ये प्रोग्रामिंग आधारित सेंसर युक्त होंगे. इनसे स्टेशन परिसर में कही कोई भी बैग या अटैची या अन्य वस्तु निर्धारित समय से ज्‍यादा समय तक रखी गौर की जाएगी, तो कैमरे के कंट्रोल रूम में खुद ब खुद ही अलार्म बज उठेगा.

खुद ब खुद कर लेगा जूम
इतना ही नहीं, मॉनिटर पर वह लावारिस बैग या अन्य वस्तु को जूम कर सिलेक्ट भी कर लेगा. इससे ऑपरेटर्स को एक नजर में पूरी स्थिति बिल्‍कुल साफ़ हो जाए. इस बारे में आरपीएफ आईजी एसके सिंह बताते हैं कि यात्री सुरक्षा के लिए हाई डेफिनेशन के कैमरे कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर लगाने का फैसला लिया गया.

यहां-यहां लगाए जाएंगे कैमरे
उन्‍होंने आगे बताया कि इन कैमरों की खरीद भी की जा चुकी है. सेंट्रल स्टेशन के वेटिंग रूम, पैसेंजर हॉल समेत सभी प्लेटफार्मों में यह कैमरे जल्द लगाए जाएंगे. इसके आगे की जानकारी देते हुए एनसीआर सीपीआरओ गौरव कृष्ण बंसल ने बताया कि कानपुर सेंट्रल स्टेशन डायरेक्टर डॉ. जितेंद्र तिवारी ने कानपुर सेंट्रल स्टेशन के यात्रियों की सुरक्षा के देखते हुए व्हीकल स्कैनर के साथ ही परिसर में हाई क्वालिटी वाले सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रस्ताव जोन व बोर्ड अधिकारियों को भेजा था. उस प्रस्‍ताव को जीएम एनसीआर एमसी चौहान मंजूरी दे दी है. स्टेशन परिसर में हाई डेफिनेशन वाले कैमरे लगने से आरपीएफ व जीआरपी को मैनपॉवर की कमी नहीं खलेगी.

इतनी होगी कैमरों की संख्‍या
आरपीएफ अधिकारियों के मुताबिक सेंट्रल स्टेशन परिसर में कुल 60 कैमरे लगाए जाने है. जोकि प्रोग्रामिंग आधारित सेंसर युक्त होंगे. स्टेशन में पहले से लगे लगभग 110 कैमरों को रिपेयर कर आउटर में लगा दिया जाएगा. इससे सिर्फ प्‍लेटफॉर्म ही नहीं, बल्‍कि आउटर्स में होने वाले अपराधों पर भी शिकंजा कसा जा सकेगा.

आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned