CAA को लेकर बोले यूपी सपा चीफ, BJP ने दहशतगर्दी को दिया जन्म


महिलाओं के साथ नन्हें‘-मुन्हें बच्चों ने बनाई मानव श्रृंखला, नागरिकता संशोधन कानून वापस किए जाने की मांग।

By: Vinod Nigam

Published: 03 Jan 2020, 09:48 AM IST

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर कानपुर में 20 और 21 दिसंबर को हिंसा हुई थी। आगजनी, पथराव के बाद फायरिंग हुई और तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं पुलिस और आमलोग भी घायल हुए थे। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पूरे मामले की जानकारी के लिए प्रदेश अघ्यक्ष नरेश उत्तम के एक टीम मृतक परिजनों से मिलने के लिए शहर भेजी। सपा प्रदेश अध्यक्ष मृतकों के परिजनों से मिले और उन्हें हरसंभव मदद के साथ इंसाफ दिलाए जाने की बात कही। इस बीच मीडिया से बातचीत के दौरान नरेश उत्तम ने कहा कि भाजपा ने देश मे ऐसा बनाया माहौल जो 70 सालों में नही हुआ। भाजपा ने देश मे विषमता और दहशतगर्दी को दिया जन्म है, जिसका हमसब को अब मिकलर मुकाबला करना होगा।

भेजी जा रही नोटिस
उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने कहा कि सरकार के इशारे पर जानबूझकर आगजनी और हिंसा की गई ताकि जनता को डराया जा सके। सीएए का विरोध कर रहे लोगों पर पुलिस ने ज्यादती की। सूबे में दर्जनभर से ज्यादा लोगों की जान चली गई। वहीं सैकड़ों लोगों को पुलिस जेल भेज चुकी है। अब पुलिस-प्रशासन दंगाई बताकर लोगों को नोटिस दे रहे हैं। जिसकी हम घोर निंदा करते हैं।

परिजनों से मिले नरेश उत्तम
सपा प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि कानपुर में तीन युवक पुलिस की गोली से मारे गए हैं। मृतक युवक के पिता ने हमें बताया है कि पुलिस उनके मृत बेटे को दंगाई बता पोस्टर चस्पा किए हैं। हम पूरे प्रकरण की रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को सौंपेगे। सपा प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि मृतकों के परिजन खौफ में हैं और इसी के चलते हम ज्यादा कुछ नहीं बता सकते। हां इतना जरूर कह सकते हैं कि भाजपा सरकार राज धर्म नहीं निभा रही है। सपा की सरकार 2022 में बनीं हो पूरे प्रकरण की जांच कराई जाएगी।

ध्यान भटकाने के लिए दी दवा
सरकार द्वारा सपा कार्यकर्ताओं पर हिंसा भड़काने के आरोप संबंधी सवाल पर सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सपा कार्यकर्ताओं ने हर जगह शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया। मगर सरकार ने बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और नौजवानों के मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए खुद हिंसा को हवा दी। इसके बाद पुलिस के जरिए निर्दोष लोगों को पिटवाया गया। कानपुर में भी पुलिस की तरह से वसूली का नोटिस आया है। सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी हरएक निर्दोष के साथ खड़ी है और थाने से लेकर कोर्ट तक में उनकी पैरवी की जाएगी।

इस वजह से लाए सीएए
सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गांव में अन्ना मवेशी किसानों की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। किसानों को खेतों में बोने के लिए खाद्य बीज नहीं मिल रहा। वह बाजर से महंगी कीमत पर खेती-बाड़ी का समान खरीद रहे हैं। गांव में रोजगार के साधन नहीं होने से युवा, किसान, मजदूर पलायन कर रहा है। भाजपा को हार के भय सता रहा है। इसी कारण नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी लाकर भाजपा जनता का ध्यान भटका रही है और इसके बूते अगला चुनाव लडना चाह रही है। पर हर मोर्चे पर फेल हो चुकी है योगी सरकार को जनता 2022 में हटा देगी।

अपराधियों को संरक्षण दे रही सरकार
दुष्कर्म के मामले पर सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की सरकार अपराधियों को संरक्षण दे रही है। पीडितों को न्याय नहीं मिल रहा है, उन्नाव, फतेहपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में बहू-बेटियों के दुष्कर्म की वारदातें हो रही हैं। पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने के बजाए उन्हें बचाती है। कहा, मेरे गृह जनपद फतेहपुर में एक युवती को दुष्कर्म के बाद जिंदा जला दिया गया। पुलिस पीड़िता को न्याय दिलाने के बजाए आरोपी को बचाती रही।

CAA protest
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned