आईपीएल सट्टेबाजी का मास्टर माइंड गिरफ्तार, दुबई में बैठे बुकी से जुड़े हैं गैंग के तार

सटीक सूचना पर एसटीएफ लखनऊ ने नौबस्त स्थित एक घर में छापा मार कर पांच सटोरियों को किया गिरफ्तार, अन्य की तलाश में कर रही है छापेमारी।

By: Vinod Nigam

Published: 10 Apr 2019, 03:59 PM IST

कानपुर। एसटीएफ ने सटीक सूचना पर नौबस्ता थानाक्षेत्र के हंसपुरम इलाके में एक घर पर छापा मारा। यहां बड़े पैमानें पर आइपीएल मैच में सट्टे का कारोबार चल रहा था। एसटीएफ ने गैंग सरगना के मास्टर जितेन्द्र उर्फ जीतू समेत चार अन्य को गिरफ्तार किया है। आरोपी के तार दुबई में बैठे बुकी से मिले हैं। टीम ने इनके पास से लाखों की नकदी, विदेशी मुद्रा, मोबाइल फोन व लैपटॉप बरामद किया है। साथ ही अन्य शातिरों की तलाश में दविश भी दी जा रही है।

नौबस्ता से दबोचे गए शातिर
आईपीएल मैच के दौरान कानपुर में बड़े पैमाने पर सट्टे का कारोबार हो रहा था। एसटीएफ लखनऊ की टीम ने सटीक सूचना पर नौबस्ता से जितेन्द्र उर्फ जीतू, आशीष, सुमित, मोहित व हिमांशु को पकड़ को दबोच लिया, जबकि अजय सिंह नाम का शातिर मौके से भागने में कामयाब रहा। इन सभी के पास से टीम ने 2.75 लाख रुपए, पांच लैपटॉप, तीन स्मार्ट टीवी, वाईफाई राऊटर, तीस मोबाइल फोन, 375 दिरम समेत काफी सामान बरामद किया है। शातिर जीतू के तार दुबई, मुंबई, दिल्ली, रायपुर अजमेर व जयपुर, में बैठे बुकी से जुड़े हैं। शातिर ने कानपुर के अलावा आसपास के जिलों में अपना नेटवर्क खड़ा कर लिया था।

कई सालों तक दुबई में रहा जीतू
एसटीएफ के इंस्पेक्टर की मानें तो जीतू कुछ साल पहले दुबई गया। वहां पांच साल तक रहा और ऑनलाइन ट्रेडिंग का काम करता रहा। बेटिंग के कारोबार से जीतू ने मुंबई, कानपुर, लखनऊ, फतेहपुर करोड़ों के मकान खरीदकर निवेश किया है। जबकि फरार शातिर अजय के बारे में एसटीएफ के अहम सुराग हाथ लगे हैं। इस पूरी कार्रवाई के दौरान एसटीएफ ने नौबस्ता पुलिस को भनक तक नहीं लगने दी। एसटीएफ अब आरोपियों से पूछताछ कर गैंग से जुड़े अन्य शातिरों के बारे में जानकारी कर रही है।

होटल से पकड़े गए थे सटोरिए
दो साल पहले आइपीएल-10 में सट्टेबाजी का सनसनीखेज मामला सामने आया थ्रर। ग्रीनपार्क स्टेडियम में गुजरात लायंस और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच चल रहे मैच का सट्टा बुकी उसी लैंडमार्क होटल से लगा रहे थे, जहां दोनों टीमों के खिलाड़ी ठहरे हुए थे। बीसीसीआई की एंटी करप्शन की यूनिट के अधिकारी और आईपीएल टीम के मालिक से लेकर इससे जुड़े पदाधिकारी तक वहीं ठहरे हुए थे। उस दौरान मुंबई के मास्टर माइंड रमेश शाह सहित तीन आरोपी पकड़े गए थे, निकते तार दुबई और मुम्बई में बैठे बुकी से थे।

Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned