गर्लफ्रेंड के मोबाइल नंबर से शातिर एक लाख का इनामी चालान एसटीएफ के हत्थे

 

पेशी के दौरान पुलिस के चंगुल से भाग निकला था शातिर अपराधी। जिस पर पुलिस ने एक लाख का इनाम घोषित किया था। जो मोबाइल का भी प्रयोग बहुत कम करता था।

 

By: Narendra Awasthi

Published: 17 Mar 2021, 08:14 PM IST

कानपुर. शातिर अपराधी को गर्लफ्रेंड को घर छोड़ने के बात वसूली करना महंगा पड़ा गया। जब एसटीएफ ने घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ को देख शातिर अपराधी मौके से भागने का प्रयास किया। लेकिन मोटरसाइकिल सहित वह नाले में गिर पड़ा। जिसे एसटीएफ ने पकड़ कदिनोंर अस्पताल में भर्ती कराया। शातिर अपराधी पर 1 लाख का इनामी घोषित था। जो पेशी के दौरान अदालत से भाग निकला था।

यह भी पढ़ें

Weather Update - मौसम वैज्ञानिकों की सलाह, आने वाले 3 में रहेगा मौसम का यह हाल

विक्की सोनी 3 अक्टूबर 2019 को अदालत में पेशी के समय पुलिस को चकमा देकर भाग निकला था। जिसके बाद से पुलिस लगातार विक्की सोनी के पीछे पड़ी थी और उस पर ₹1लाख का इनाम भी घोषित किया था। सर्विलांस के माध्यम से एसटीएफ को विक्की सोनी की लोकेशन पनकी थाना क्षेत्र के शताब्दी नगर में मिली। जिसके बाद एसटीएफ ने पकड़ने का प्लान बनाया। मौके पर पहुंची एसटीएफ को देखकर विक्की सोनी और उसके दो अन्य साथी फायरिंग करने लगे। विक्की के दोनों साथ ही तो मौके से फरार होने में सफल रहा। लेकिन विक्की सोनी मोटरसाइकिल सहित नाले में गिर पड़ा और एसटीएफ के शिकंजे में आ गया।

यह भी पढ़ें

यूपी पुलिस के सिपाही के खिलाफ लव जिहाद, रेप मुकदमा दर्ज, जाने क्या है पूरा मामला

बताया जाता है विक्की सोनी मोबाइल का उपयोग नहीं करता था। बातचीत करने के लिए राह चलते लोगों का फोन इस्तेमाल करता था। जिसके बाद एसटीएफ ने उसकी गर्लफ्रेंड के मोबाइल नंबर से उसे ट्रेस करना शुरू किया और शातिर अपराधी एसटीएफ की गिरफ्त में आया है। विक्की सोनी पर हत्या जैसा संगीन मामला दर्ज है। 29 अक्टूबर 2015 को नौबस्ता थाना क्षेत्र के हंस पुरम आवास विकास कॉलोनी में रोहित भदोरिया की हत्या कर दिया था। इस मामले में विक्की, रामजी मिश्रा, रोहित बहेलिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था। पेशी के दौरान हुआ पुलिस की गिरफ्त से भाग निकला था।

Show More
Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned