घसीटकर कोतवाली ले गए थे अंग्रेज पर हाथों में झंडा लिए गाते रहे गाना

घसीटकर कोतवाली ले गए थे अंग्रेज पर हाथों में झंडा लिए गाते रहे गाना

Alok Pandey | Publish: Aug, 08 2019 01:36:38 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

आजादी की लड़ाई के दौरान नेहरू और शास्त्री के थे चहेते
झंडा सत्याग्रह के दौरान की यात्रा और दी गिरफ्तारी

कानपुर। जंग-ए-आजादी के कुछ ऐसे भी मतवाले थे, जिनका नाम ज्यादा लोगों को नहीं मालूम, लेकिन उन्होंने आजादी पाने के लिए चल रही लड़ाई में अपनी सक्रिय भूमिका निभाई। ऐसा ही एक नाम है हमीद उल्लाह खान। लोग उन्हें ताऊ जी कहकर भी बुलाते थे। सादा जीवन उनकी खास पहचान थी और आजादी के बाद भी वे उसी सादगी से जिए।

गिरफ्तार होने पर भी झंडा नहीं छोड़ा
ताऊ जी ने जेल में १५ साल गुजारे और जब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया तो वे हाथों में झंडा लिए हुए थे। पुलिस ने उन्हें पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया पर उन्होंने हाथों से झंडा नहीं छोड़ा। कोतवाली तक उन्हें घसीटकर ले जाया गया और वे रास्ते भर आजादी का तराना गाते रहे। आजादी के बाद वे दो बार विधायक भी रहे।

पहली बार स्कूल के बाहर दी गिरफ्तारी
हमीद उल्लाह उर्फ ताऊ जी का जन्म २६ अक्टूबर १९०० में कानपुर के डेरापुर में हुआ था। उनके पिता छेदा खान उर्सला अस्पताल में फार्मेसिस्ट थे। एक दिन स्कूल के बाहर कुछ हंगामा होने लगा और पुलिस भी आ गई। स्कूल के दरवाजे बंद कर दिए गए पर वे कूदकर बाहर आ गए और गिरफ्तारी दी।

बड़े नेताओं के थे करीबी
आजादी की लड़ाई के दौरान हमीद उल्लाह की चर्चा हर ओर होने लगी। उनकी चर्चा बड़े नेताओं तक भी पहुंची। देखते ही देखते वे जवाहरलाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री, अबुल कलाम आजाद, गणेश शंकर विद्यार्थी और हसरत मोहानी के चहेते बन गए।

झंडा सत्याग्रह में हुए शामिल
वे १९१६ में कांग्रेस में शामिल हुए। १९२१ में अंग्रेजों ने कांग्रेस को गैर कानूनी घोषित कर दिया और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। जहां उन्हें सात महीने की सजा काटनी पड़ी। झंडा सत्याग्रह में वे कानपुर से इलाहाबाद पहुंचे और जवाहरलाल नेहरू और पुरुषोत्तमदास के साथ नागपुर गए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned