अखिलेश यादव पर बरसे मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, मजदूरों के पैसों से चहेतों को बांटी साइकिल


शास्त्री पार्क में सामूहिक विवाह समारोह के दौरान कैबिनेट मंत्री ने समाजवादी पार्टी पर लगाए आरोप, सीएए को लेकर विपक्ष फैला रहा अफवाह।

By: Vinod Nigam

Published: 08 Mar 2020, 09:30 AM IST

कानपुर। उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य श्रृम विभाग की तरह से चलाए जा रहे सामूहिक विवाह समारोह में भाग लेने के लिए शास्त्री पार्क पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने मजदूरों की हर समस्या का निराकरण का वादा किया। साथ ही मंत्री ने एक बड़ा ख्ुालासा करते हुए बताया कि अखिलेश यादव की सरकार के कार्यकाल के दौरान मजदूरों के पैसे से अपने चहेते सपाईयों को साइकिल का वितरण किया गया। सपा, बसपा और कांग्रेस ने प्रदेश को गर्त में ढकेलना का कार्य किया। प्रदेश में जब से योगी की सरकार आई है तब से सबका-साथ, सबका-विकास और सबके विश्वास के तहत जमीन पर काम चल रहा है।

लोकतंत्र में जनता सबकुठ
स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा ने सपा व बसपा की सरकरों पर जमकर जुबानी हमला किया। कहा पूर्व की सपा सरकार के कार्यकाल के दौरान श्रमिकों की कमाई साईकिलो को बांटने में खर्च की गई है। जिसका परिणाम रहा कि जनता ने वोट के जरिए इन्हें बेदखल कर दिया। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में जनता ही सब कुछ है और जनता ही सजा देती है और सत्ता में पहुंचाने का काम भी जनता ही करती है। जनता ने इन्हें पूरी तरह से नकार दिया है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ की जनहितकारी योजनाओं को देखकर बीजेपी को जिता रही है।

संघर्ष धर्म भूल चुका विपक्ष
कैबिनंट मंत्री ने नगारिकता कानून को लेकर चल रहे विरोध और दिल्ली की हिंसा पर कहा कि विपक्ष संघर्ष का धर्म भूल गया है। जनहित के मुद्दों से भटक गया है। इसलिए वह गैर जिम्मेदार बयान देकर लोगों को भड़का रहा है। साथ ही विपक्षी दलों के नेता हमारी पार्टी के शीर्ष नेताओं पर अप शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं। जनता की नजर विरोधी दलों के नेताओ ंपर है और इस संयोग के प्रयोग का जवाद इन्हें वोट के जरिए जरूर देगी।

प्रायोजित आंदोलन
स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि यह स्वत विरोध नहीं है। यदि ऐसा होता तो सीएए लागू होने के बाद आंदोलन सड़क पर आ गया होता। यह कांग्रेस, सपा और अन्य विरोधी पार्टियों की ओर से साजिश के तहत प्रायोजित आंदोलन है। प्रदेश में आगजनी, तोड़फोड़, पत्थरबाजी, लूटपाट कराई जा रही है। सार्वजनिक और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। लोगों को यह जानना चाहिए कि इससे उनकी नागरिकता नहीं छीनी जा रही है। सीएए पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों के हित में है।

Bharatiya Janata Party CAA protest
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned