मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने दिया बड़ा बयान, मोहम्मद अली जिन्ना को बताया महापुरूष

सामूहिक विवाह समारोह में शामिल हुए स्वामी प्रसाद, मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ

By: Vinod Nigam

Published: 01 May 2018, 08:35 PM IST

कानपुर। श्रृम दिवस के अवसर पर मंगलवार को यूपी सरकार के श्रम एवं समायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद र्मौर्या कानपुर पहुंचे। सेंट्रल पार्क स्थित श्रृम विभाग की तरफ से आयोजित सामूहिक विवाह समारोह के दौरान मंत्री ने 434 जोड़ों का आर्शीवाद देकर उनके उज्जवल भविष्क की कामना की। इस मौके पर मंत्रर स्वामी प्रसाद मौर्या मीडिया से बातचीत के दौरान भाजपा के साथ ही अन्य विरोधी दलों के जनप्रतिनिधियों को नसीहत देते हुए कहा कि उन लोगों को अपने बयान सोच समझ कर देना चाहिए। देश के महापुरूषों पर गलत तिपण्णी करने से उन्हें बचना चाहिए। मौर्या ने जिन्ना का राष्ट्रभक्त बताते हुए कहा कि आजादी के पहले उन्होंने भी भारत के लिए जंग लड़ी। उनके योगदान को नकारा नहीं जा सकता। लोगों को हमारी सलाह है कि पहले वह इतिहास पढ़े और बोलें।
गलत बयान देने से बचें जनप्रतिनिधि
उत्तर प्रदेश की मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या श्रृम विभाग की तरह से आयोजित सामूहिक विववह समारोह में भाग लेने के लिए कानपुर के सेंट्रल पार्क पहुंचे। यहां उन्होंने 434 नवदंपत्ति को आर्शीवाद देने के साथ 67 हजार रूपए नकद दिए। इस मौके पर मौर्या ने भाजपा के साथ ही अन्य रातनीतिक दलों के नेताओं को सलाह देते हुए कहा कि देश के महापुरूषों के खिलाफ तिपण्णी करने से पहले उनके इतिहास और त्याग व बलिदान को पढ़ें। वर्तमान स्वरूप में नेता आएदिन महापुरूषों के खिलाफ लगत बयानबाजी कर देश का महौल खराब करने की कोशिश करते हैं जिसकी इजाजत संविधान भी नहीं देता। मौर्या ने अलीगढ़ के भाजपा सांसद सतीश गौतम की मांग, पर कहा कि जिन्ना आजादी के वक्त कंधे से कंधा मिलाकर चले और देश को आजाद करवाने में उनका अहम योगदान रहा। इसलिए भाजपा सांसद के साथ ही अन्य को पहले जिन्ना के बारे में जानकारी करनी चाहिए, फिर मांग और बयान देना चाहिए।
सांसद की मांग की कुछ तरह दिया जवाब
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्रसंघ कार्यालय में लगी पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो लगी हुई है। भाजपा सांसद सतीश गौतम ने एएमयू वीसी को पत्र लिखकर जिन्ना की तस्वीर के बारे में स्पष्टीकरण मांगा है। पत्र में कहा गया कि विवि अगर कुछ तस्वीरें लगवाना चाहता है तो उन्हें महेंद्र प्रताप सिंह जैसे महान पुरुषों की तस्वीर प्रदर्शित करनी चाहिए, जिन्होंने इस संस्था के लिए भूमि दान की थी। पर मंत्री मौर्या ने कहा कि चाहे उनकी ही पार्टी के सांसद या विधायक क्यों न हो ऐसी मांग और बयानबाजी करने वालां को हम गठिया किस्म का मानते हैं, क्योकि देश के बटवारे के पहले जिन्ना का भी योगदान रहा है। उन्होंने भी महात्मा गांधी, पंडित नेहरू के साथ ही अन्य क्रांतिकारियों के साथ कदम से कदम मिलाकर चले औा आजादी के बाद उन्होंने अगल देश की मांग की।
मुस्लिम जोड़ों को दिया आर्शीवाद
सेन्ट्रल पार्क में आयोजित इस सामूहिक विवाह में नगर समेत कई जिले से आयी दुल्हन को दूल्हों के साथ विदा किया गया। जिसमे बीस मुस्लिम समुदाय की लड़कियां भी थीं, जिनका धर्म के अनुसार निकाह कराया गया। कार्यक्रम के अंत में मिडिया से बात करते हुए स्वामी प्रसाद ने यूपी सरकार के तोहफों का गुणगान करते हुए बताया कि अब अगर किसी मजदुर का बेटा या बेटी इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई करता है तो उसकी पूरी फीस सरकार और उनका विभाग अदा करेगा। मंत्री ने मुस्लिम समुदाय की नवदंपत्ति जोड़ों को आर्शीवद देकर विदा किया। मंत्री ने बताया कि मजदूरों के लिए सरकार ने कई योजनाएं चलाई हैं, जिनका लाभ उन्हें मिल रहा है। आने वाला वक्त मजदूरों के लिए अहम होगा। केंद्र और यूपी सरकार सूबे में कंपनियों को लाए जाने के लिए लगी हुई हैं, जिससे मजदूरों को रोजगार के साथ अच्छा वेतन मिलेगा।

Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned